अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूल बस पलटी, खलासी मरा, पांच बच्चे गंभीर

धुर्वा स्थित सरस्वती शिशु विद्या मंदिर की स्कूल बस शनिवार को सुबह धुर्वा गोलचक्कर के आगे दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। बस बायी तरफ तीन पलटी खा गयी। इसमें स्कूल का कर्मचारी सह खलासी विजय की मौत हो गयी, जबकि ड्राइवर सहित पांच बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गये। बस स्कूल के बच्चों को डीएवी धुर्वा ले जा रही थी, जहां उन्हें सीबीएसइ 10वी की परीक्षा देनी थी। घायल बच्चों को ईलाज के लिए राज अस्पताल में भर्ती किया गया है। जानकारी मिलते ही स्कूल प्रबंधन और अभिभावक और राजनीतिक दल के नेता भी अस्पताल पहुंचे।ड्ढr दहाड़ मार कर रो रही थी प्रदीप की मांड्ढr रांची। खलासी प्रदीप की मां मुन्नी देवी को जसे ही पता चला कि उनका बेटा अब इस दुनिया में नहीं रहा, वह दहाड़ मार कर रोने लगी। चिल्लाते-चिल्लाते वह बेहोश भी हो जा रही थी। प्रदीप सिर्फ खलासी ही नहीं बल्कि स्कूल का कर्मचारी भी था। 10 दिन पहले ही वह स्कूल में नौकरी ज्वाइन किया था। मुन्नी देवी भी स्कूल में ही आया का काम करती है। स्कूल के प्रिंसिपल एके सरकार ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि इलाज में किसी प्रकार की कमी नहीं की जायेगी।ड्ढr घायलावस्था में ही दी परीक्षाड्ढr धुर्वा गोलचक्कर के पास हुए वाहन दुर्घटना में घायल छात्र हर्ष और प्रसून कुंडू ने घायलावस्था में ही अपनी परीक्षा दी। छात्रों ने डाक्टरो से साफ कह दिया कि जितना टांका लगता है, जल्द से जल्द लगाया जाये। उन्हें परीक्षा देनी है। उसी के बाद वह इलाज करायेंगे। वाहन दुर्घटना में घायल जितने भी छात्र परीक्षा से वंचित हुए हैं, उनके संबंध में सीबीएससी बोर्ड को सूचित किया जायेगा। यह कहना है सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के प्राचार्य केके दास का। उन्होंने कहा कि अगर कोई ऐसा प्रावधान होगा कि इन छात्रों को दुबारा परीक्षा दिलाया जा सके तो स्कूल पूरा प्रयास करगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: स्कूल बस पलटी, खलासी मरा, पांच बच्चे गंभीर