DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गर्मी लगी क्या?

आजकल, जबकि पारा चवालीस का आंकड़ा छूने को है, किसी को नकसीर की शिकायत है, तो किसी को लू लग गई है, या फिर कोई उल्टी-दस्त का शिकार होकर अस्पताल के चक्कर लगा रहा है, तो किसी को फोड़े-फुंसी और खाज ने परेशान कर रखा है, किसी को घमौरियों से चैन नहीं है, तो किसी के पेट में गड़बड चल रही है। कुल मिलाकर हम कह सकते हैं, कि गर्मी का ये मौसम वाकई तमाम तरह की मुसीबतें लेकर आता है।

पेश हैं गर्मी की मुसीबतों से निजात पाने के चंद जरूरी उपाय :-

पानी और ज्यूस जमकर पीएं, लेकिन कैफीन पाले ड्रिंक्स नहीं। प्रतिदिन 12 से 15 गिलास लिक्विड शरीर में जाना चाहिए। पानी के अलावा शिकंजी, जलजीरा, सोडा भी पी सकते हैं।

सलाद, ककड़ी, खीरा, तरबूज, पुदीना, अनन्नास, संतरा खाएं। इनसे प्यास भी बुझेगी और शरीर में तरावट भी रहेगी।

धनिया, पालक, करी पत्ता से तैयार किया गया ग्रीन ज्यूस लें। नारियल का पानी, छाछ और गाजर का ज्यूस भी पीते रहना चाहिए।

लू के थपेड़ों से बचने के लिए प्याज का जमकर सेवन करें। इससे शरीर में तरावट भी रहती है।

गर्म तासीर वाली खाने-पीने की चीजों से तौबा करें। जैसे कि रेड मीट, तली-भुनी चीजें, कॉफी, शराब, फुल क्रीम दूध और सिगरेट। लहसुन, काजू-बादाम, काली मिर्च और घी का सेवन भी सोच समझकर करें।

पिपरमेंट आयल से लू का इलाज संभव है। इसे कनपटियों और त्वचा पर लगाना होता है।

डिहाइड्रेशन को दूर रखने के लिए अधिक से अधिक तरल पदार्थ, जैसे पानी, ज्यूस या तरबूज जैसे रसीले फलों का सेवन करना ठीक रहता है। इससे इलेक्ट्रॉलाइट्स के नुकसान की भरपाई आसानी से हो जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गर्मी लगी क्या?