DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा हार का ठीकरा फोड़ने का सिलसिला

भाजपा के भीतर लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद ठीकरा फोड़ने का सिलसिला जारी है। प्रदेश अध्यक्ष बची सिंह रावत ने पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रकोष्ठ को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है। उन्होंने प्रकोष्ठ को जनता तक पार्टी का संदेश न पहुंचा पाने व मीडिया के साथ बेहतर समन्वय व साम्यता न रख पाने का दोषी ठहराया गया।


प्रदेश अध्यक्ष बची सिंह रावत के हवाले से प्रदेश कार्यालय प्रभारी नरेंद्र पाल सिंह रावत ने बयान जारी कर प्रदेश मीडिया प्रकोष्ठ भंग करने की जानकारी दी। बयान में कहा गया है कि पार्टी लोकसभा चुनाव के हार के कारणों की गहनता से जांच कर रही है। इसके तहत पार्टी सिलसिलेवार संगठन के सभी प्रकोष्ठों, मोचरे की कार्यशली, क्षमता का मूल्यांकन व समीक्षा की गई। इससे साफ हुआ कि मीडिया प्रकोष्ठ पार्टी के संदेश जनता तक पहुंचाने में पूरी तरह विफल रहा। इसके साथ ही प्रकोष्ठ मीडिया के साथ भी उचित समन्वय बनाने में भी विफल रहा। इसका सीधा नुकसान पार्टी को लोकसभा चुनाव में उठाना पड़ा।


महानगर अध्यक्ष विनय गोयल व जिलाध्यक्ष चमोली का इस्तीफा स्वीकार करने के बाद मीडिया प्रकोष्ठ को भंग करने से साफ हो गया है कि अभी कई विकेट और गिरने हैं। बयान में प्रदेश अध्यक्ष ने इस बात साफ भी किया है कि सभी प्रकोष्ठों व मोचरे का चुनाव में भागेदारी का आंकलन हो रहा है। प्रदेश संगठन के इस आक्रामक रुख ने पदाधिकारियों में खलबली मचा दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लोकसभा हार का ठीकरा फोड़ने का सिलसिला