DA Image
17 फरवरी, 2020|9:16|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुस्लिम जगत के तनाव पर चर्चा करेंगे ओबामा

मुस्लिम जगत के तनाव पर चर्चा करेंगे ओबामा

मिस्र की राजधानी काहिरा से अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा जल्द ही मुस्लिम जगत से नए सिरे से संबंध बनाने का आह्वान करेंगे और भविष्य में आपसी सम्मान और हितों के लिए साक्षेदारी की पेशकश करेंगे।

व्हाइट हाउस ओबामा के इस भाषण को ऐतिहासिक बता रहा है। उम्मीद की जा रही है कि थोड़ी ही देर बाद जब ओबामा काहिरा के मंच से अपनी बात कहेंगे तो अपने इस भाषण में वह अमेरिका और मुस्लिम जगत के बीच तनाव की वजह बने विभिन्न मुद्दों पर बहुत स्पष्ट और विस्तार से अपनी बात रखेंगे।

ओबामा के इस बहु प्रतीक्षित भाषण के बारे में व्हाइट हाउस के अधिकारियों का कहना है कि यह प्रयास मुस्लिम जगत को साथ लेकर चलने की मुहिम का एक हिस्सा है और इस तरह के और भी प्रयास किए जाएंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के लिए भाषण लिखने वाले बेन रोडेस ने भाषण की झलक दिखाते हुए संवाददाताओं से कहा कि इसमें ओबामा कुछ गलत धारणाओं और मतभेदों को भी खुलकर उठाएंगे।

रोडेस ने कहा, वह एक दूसरे को बेहतर तरीके से जानने के लिए जरूरत के बारे में बताएंगे। ओबामा ने जैसा कहा है, वह वैसा करेंगे, मसलन अमेरिका और इस्लाम के बीच अमेरिका के भीतर संबंधों खासतौर पर अमेरिकी मुस्लिमों के योगदान के आलोक में वह विचार-विमर्श करेंगे।

रोडेस ने उन मुद्दों के बारे में भी बताया जो ओबामा की यात्रा के एजेंडे में शीर्ष पर हैं। उन्होंने कहा कि इन मुद्दों में हिंसक चरमपंथ और उसका खतरा, इस खतरे से निपटने के लिए अमेरिका की कार्रवाई, अफगानिस्तान और पाकिस्तान में जारी मौजूदा संघर्ष और वहां अमेरिका की भूमिका, वहां के लोगों के साथ भविष्य में साझेदारी की उम्मीद शामिल है।

ओबामा इराक के बारे में विचार-विमर्श करेंगे और बताएंगे कि अमेरिका ने वहां क्या किया और उनका प्रशासन भविष्य में वहां किस तरह के कदम उठाने का इरादा रखता है। अमेरिकी राष्ट्रपति इजराइल--फलीस्तीन और वृहद अरब--इजराइल मसलों पर भी विचार विमर्श करेंगे। वह इस बात को जताएंगे कि इस क्षेत्र में और दुनियाभर में तनाव की यह एक बेहद महत्वपूर्ण वजह रही है।

ओबामा इन संघर्षों के बारे में अपने विचार भी रखेंगे और इनके समाधान के लिए जरूरी कदमों पर भी विचार-विमर्श करेंगे। ओबामा का भाषण लिखने वाले रोडेस ने कहा, वह इजरायल, फलीस्तीन, और अमेरिका के साथ अरब देशों के नजरिए पर विचार-विमर्श करेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मुस्लिम जगत के तनाव पर चर्चा करेंगे ओबामा