DA Image
17 फरवरी, 2020|9:21|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तोड़फोड़ के बाद प्रखंड कार्यालय में बिखरा सामान,जान बचाकर भागे बीडीओ

गौड़ अंधरा पंचायत को अंधराठाढ़ी थाना व प्रखंड में बनाए रखने के सवाल पर मंगलवार को प्रखंड कार्यालय में अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन करने पहुंचे हजारों महिलाओं एवं पुरुषों ने जमकर तोड़फोड़ की। बीडीओ के कक्ष में घुसकर महिलाओं ने कुर्सी-टेबुल को तोड़ दिया और बीडीओ के साथ धक्का-मुक्की भी की। इस दौरान पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। लोगों की उग्र तेवर देख बीडीओ रविश किशोर ने भागकर अपनी जन बचायी।

करीब डेढ़ दो घंटे तक हुए बवाल के दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। बाद में वहां पहुंचे झंझरपुर के एसडीओ अविनाश कुमार कंठ एवं डीएसपी विश्राम दास के हस्तक्षेप व समझोता वार्ता पर स्थिति सामान्य हुई। हालांकि संवाद प्रेषण तक लोगों की भीड़ अंधराठाढ़ी प्रखंड कार्यालय पर डटी हुई है। एसडीओ के बुलावे पर प्रदर्शनकारियों के एक शिष्टमंडल ने थाने पर जाकर मांगों का ज्ञापन सौपा।

शिष्टमंडल में चन्द्रशेखर झा, सरपंच कृष्णदेव पासवान, मुकेश चौधरी, श्रीनारायण चौधरी, धर्मेन्द्र चौधरी, इंद्र कुमार चौधरी आदि शामिल थे। अनिश्चितकालीन धरना व प्रदर्शन जरी है। जनकारी के अनुसार आंदोलन का कारण प्रस्तावित रुद्रपुर प्रखंड एवं गौड़ अंधरा पंचायत को जोड़ने से उत्पन्न आक्रोश बताया ज रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:प्रदर्शनकारियों ने की प्रखंड कार्यालय में तोड़फोड़