DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैं खुद पर काबू नहीं रख पाया: नडाल

मैं खुद पर काबू नहीं रख पाया: नडाल

चार बार के फ्रेंच ओपन चैंपियन स्पेन के राफेल नडाल ने रविवार को स्वीडन के राबिन सोडरलिंग के खिलाफ मिली हार के बाद कहा कि वह खुद पर काबू नहीं कर पाए और उनका लगातार पांचवीं बार फ्रेंच ओपन जीतने का सपना टूट गया।

दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नडाल ने कहा कि मैं इस हार को स्वीकार करता हूं। इस हार के बाद भी मैं वैसे ही शांत हूं जैसे 2005 में पहली बार फ्रेंच ओपन जीतने के बाद था।

गौरतलब है कि सोडरलिंग ने पेरिस में नडाल को 6-2, 6-7, 6-4, 7-6 से हराकर उनका लगातार पांचवीं बार लाल बजरी पर फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने के अरमानों पार पानी फेर दिया। नडाल 2005 के बाद से अब तक यहां खेले 31 मैचों में एक भी नहीं हारे थे। लेकिन सोडरलिंग ने 32वें मैच में उनके अपराजेय क्रम को तोड़ दिया।

हार के बाद नडाल ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं सोडरलिंग शानदार खेले। लेकिन मैं अपनी बेहतरीन टेनिस नहीं खेल पाया और यही कारण रहा कि मुङो हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि मैं अहम अंकों को हासिल करने के दौरान संयम नहीं बरत सका। मुङो काफी संघर्ष करना पड़ा। लेकिन कभी कभी केवल संघर्ष ही सब कुछ नहीं होता है बल्कि आपको अच्छी टेनिस भी खेलनी होती है।


नडाल ने कहा कि लोगों को लगता है कि मैं जीत जाता क्योंकि मैं शारीरिक तौर पर फिट हूं। लेकिन नहीं, मैं इसलिए जीतता रहा कि मैं अच्छा खेल रहा था लेकिन  ऐसा नहीं हो पाया।

उधर इस जीत से गदगद सोडरलिंग ने कहा कि इस मुकाबले से पहले मैं इसे भी एक मैच की तरह ही खेलने आया था। पूरे मैच के दौरान में अच्छा खेलने की कोशिश करता रहा। जब मैं अंतिम सेट के टाईब्रेक में 4-1 से आगे हो गया तो लगा कि अब मैच जीत सकता हूं और आखिरकार हुआ वही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैं खुद पर काबू नहीं रख पाया: नडाल