DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विश्‍लेषक के अभाव में प्रयोगशाला से लौटा सैम्पल

मिड डे मील के तहत फूड वन के भोजन से बच्चों के बीमार पड़ने के मामले की जांच खटाई में पड़ गई है। बवाल मचने के बाद जांच के लिए पटना भेजी गई भोजन सामग्री बैरंग वापस हो गई है। इससे प्रशासन, शिक्षा व स्वास्थ्य अधिकारियों की परेशानी बढ़ गई है। दरअसल पटना स्थित संयुक्त खाद्य व औषधि जांच प्रयोगशाला के विश्लेषक के रिटार्यड हो जाने के कारण खाद्य सामग्री की जांच नहीं हो सकी।

चार रोज पूर्व ही प्रयोगशाला ने सीएस को जांच नहीं होने की सूचना के साथ खाद्य सामग्री वापस भेज दिया है। गौरतलब है कि 19 मई को फूड वन के भोजन से आदर्श मध्य विद्यालय के छात्र के बीमार हो गए थे। डीएम विपिन कुमार के निर्देश पर सिविल सजर्न डॉ. बिल्टू पासवान ने भोजन सामग्री को जब्त कर पटना स्थित प्रयोगशाला में भेज था।

इस बारे में सिविल सजर्न ने बताया कि जांच नहीं होने की सूचना वरीय अधिकारियों को दी जा रही है। साथ ही खाद्य निरीक्षक को जांच की जिम्मेवारी सौंपी गई है। डॉ. पासवान ने बताया कि सामग्री की जांच के लिए जल्द ही कार्रवाई होगी। इधर, खाद्य निरीक्षक टुन्ना साह ने बताया कि प्रयोगशाला से संपर्क रखा ज रहा है। नये विश्लेषक की नियुक्ति होते ही सैम्पल को दुबारा भेज जएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिड डे मील : दूषित भोजन की जांच अटकी