अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माओवादियों के बंद से निपटने की तैयारी पूरी

राज्य सरकार ने नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के 1 जून को भारत बंद के आह्वान को देखते हुए राज्य के सभी नक्सल प्रभावित जिलों को अलर्ट कर दिया है। पुलिस मुख्यालय ने सभी जिलों के पुलिस अधिकारियों को महत्वपूर्ण स्थानों पर सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया है।

माओवादियों ने अपने नेता पटेल सुधाकर रेड्डी और लिट्टे सुप्रीमो वेल्लूपिल्लई प्रभाकरन के मारे जाने के विरोध में एक जून को भारत बंद का आह्वान किया है। एडीजी मुख्यालय नीलमणि ने बताया कि बिहार में माओवादियों के बंद से निपटने की पूरी तैयारी की गई है। खासकर रेलवे लाइनों और स्टेशनों की सुरक्षा बढ़ा देने का निर्देश दिया गया है। लाइनों के किनारे गश्त लगाने के लिए भी कहा गया है।

बंद के दौरान माओवादी रेलवे की पटरियों और स्टेशनों को अपना निशाना बनाते रहे हैं। वसे एक संभावना यह भी जताई ज रही है कि चूंकि माओवादियों के नेता आंध्र प्रदेश में मारे गए हैं इसलिए बिहार और झरखंड में बंद का असर कम ही रहेगा। फिर भी सूबे के नक्सल प्रभावित 31 जिलों में सुरक्षा की पूरी तैयारी की गई है। बिहार और झरखंड के सीमावर्ती जिलों में सुरक्षा की खास व्यवस्था की गई है और उन जिलों में गश्त भी बढ़ा दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सल प्रभावित जिलों में अलर्ट