अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अधूरे भवन निर्माण को दो माह में पूरा करने का निर्देश

नये शैक्षणिक सत्र में अधिकाधिक प्लस-टू स्कूलों में इंटर की पढ़ाई शुरू करने के लिए विभागीय स्तर पर तैयारी तेज है। इसके तहत विभाग ने 46 स्कूलों के अधूरे भवन निर्माण को दो माह में पूरा करने का निर्देश दिया है। शनिवार को डीईओ विनोद कुमार राम ने बताया कि दो माह के भीतर भवन निर्माण को पूरा नहीं करने वाली एजेंसियों के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

जानकारी के अनुसार उक्त स्कूलों के उत्क्रमण को वर्ष 2006-07 में ही विभाग ने हरी झंडी दी थी। इधर, डीईओ ने बताया कि इस वर्ष भी जिन 53 हाईस्कूलों को प्लस-टू में उत्क्रमित करने की स्वीकृति मिली है उसके भवन निर्माण की राशि जिले को मिल गई है। एजेंसियों का चयन कर शीघ्र इन स्कूलों में भी निर्माण शुरू कराया जाएगा। उल्लेखनीय है, प्रथम चरण में 1988-89 में जिले के छह स्कूलों के उत्क्रमण के बाद दूसरे चरण में 46 स्कूलों को प्लस-टू स्कूल बनाने का काम शुरू किया गया था।

यद्यपि में इनमें से येन-केन-प्रकारेण 17 के भवन निर्माण कार्य को अंतिम रुप देने का काम चल रहा है। जानकारी अनुसार, 10वीं का परीक्षा परिणाम आने के बाद विभाग की हड़बड़ी बढ़ी हुई है। इस वर्ष जिले से लगभग 32 हजर परीक्षार्थी मैट्रिक की परीक्षा पास कर इंटर के द्वार पर दस्तक दे रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चार दर्जन स्कूलों में इंटर की पढ़ाई की तैयारी