अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रसाद नहीं लिया तो पीट दिया

मनसा देवी मंदिर में शुक्रवार सुबह माता के दर्शन करने आए एक श्रद्धालु पर प्रसाद विक्रेता ने हमला कर उसे घायल कर दिया। घायल को सिविल अस्पताल में दाखिल कराया गया। माता मनसा देवी में प्रसाद बेचने को लेकर जिस तरह से विक्रेताओं के बीच होड़ मचती है, उससे यहां आने वाले भक्तों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

चंडीगढ़ के सेक्टर-42 निवासी मुकेश ने बताया कि उनके चाचा दारा सिंह मन्नत मांगने के लिए माता मनसा देवी मंदिर पहुंचे। मुख्य द्वार से बाहर ही एक प्रसाद विक्रेता यह कहकर पीछे पड़ गया कि बाबू जी प्रसाद ले लो। जब उन्होंने मना किया तो इस विक्रेता ने कुछ ऐसा कहा, जिस पर दारा सिंह ने आपत्ति जताई। मुकेश ने बताया कि प्रसाद विक्रेता माफी मांगने की बजाए यह धमकी देने लगा कि जो करना है, कर लो। इस पर जब दारा सिंह ने कहा कि वे मंदिर प्रशासन में मामले की शिकायत दे रहे हैं तो अचानक इस विक्रेता ने उन पर हमला कर दिया। हमला होने के बाद घबराए मुकेश ने जब बचाव के लिए शोर मचाया तो आसपास के लोग मदद के लिए दौड़े। लोगों को आते देख प्रसाद विक्रेता दारा सिंह को छोड़कर फरार हो गया। मुकेश अपने घायल चाचा को लेकर सिविल अस्पताल पहुंचा, जहां उसका इलाज शुरू कर दिया गया। दारा सिंह के सिर पर टांके भी लगे हैं। मामले की सूचना पुलिस को भी दे दी गई है।

मनसा देवी मंदिर के बाहर फड़ी पर प्रसाद बेचने वाले विक्रेताओं के बीच अक्सर खींचातानी होती है। विक्रेता भक्तों के पीछे-पीछे चलते हैं कि प्रसाद खरीद लो। अगर कोई विक्रेता, किसी दूसरे विक्रेता की सीमा में घुस आए तो मारपीट तक हो

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रसाद नहीं लिया तो पीट दिया