DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीएलसी ने किया टीडब्ल्यूयू कर्मियों का पदनाम बहाल

उप श्रमायुक्त रामप्रवेश सिंह ने टाटा वर्कर्स यूनियन के पांच कर्मचारियों का यूनियन नेतृत्व द्वारा पदनाम तोड़े जाने को गलत करार देते हुए पुनर्बहाल का आदेश दिया है।

ज्ञात हो कि टीडब्ल्यूयू के कर्मचारी अरविंद कुमार का 13 माह तक प्रमोशन लागू करने के बाद डिमोशन कर दिया गया था। इसके अलावा यूनियनकर्मी धर्मवीर, सुनील सिंह, संजय सिंह व एमएस सिंह के पदनाम को भी तोड़ दिया गया था।

इसकी जानकारी संबंधित यूनियन कर्मियों को तब लगी, जब उनके फिटमेंट स्लिप का वितरण किया गया। इसके बाद सभी प्रभावित कर्मचारियों ने अध्यक्ष व महासचिव को पत्र देकर पदनाम में सुधार करने की मांग की, लेकिन उसे खारिज कर दिया गया। अंतत: यूनियन के पांचों कर्मचारियों ने उप श्रमायुक्त, जमशेदपुर तथा श्रमायुक्त, झारखंड सरकार के पास शिकायत की। इस पर कार्रवाई करते हुए उप श्रमायुक्त ने चार अप्रैल को टाटा वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष व महासचिव को नोटिस दिया।

लेकिन अध्यक्ष द्वारा इसका जवाब नहीं दिए जाने के बाद डीएलसी ने 19 मई 09 को पत्रांक 2191 के तहत न केवल पुराना पदनाम बहाल करने का आदेश दिया, बल्कि इस कार्रवाई को टाटा वर्कर्स यूनियन की प्रतिष्ठा और गरिमा के खिलाफ बताया। डीएलसी ने अपने आदेश में पांचों कर्मचारियों को पूर्ववत रखे जाने संबंधी आदेश को तत्काल प्रभाव से लागू कर इसकी जानकारी 26 मई तक उन्हें देने का निर्देश दिया था।

इस मामले में डीएलसी के आदेश का पालन करते हुए महासचिव एसएन सिंह ने 26 मई को ही सभी कर्मचारियों का पदनाम बहाल कर दिया तथा इसकी जानकारी सभी पदाधिकारियों को लिखित रूप में दे दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डीएलसी ने किया टीडब्ल्यूयू कर्मियों का पदनाम बहाल