DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टाटा मोटर्स गेट पर भोजपुरी संघ का प्रदर्शन

भारतीय भोजपुरी संघ ने टाटा मोटर्स में स्थानीय लोगों को प्राथमिकता के आधार पर नौकरी देने समेत कई मांगों को लेकर गुरुवार कंपनी के मुख्य गेट पर प्रदर्शन किया। संघ के अध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे के नेतृत्व में तमाम लोग धरना पर बैठे। इस मौके पर आनंद बिहारी दुबे ने कहा कि टाटा मोटर्स में कोड आफ कंडक्ट का खुलेआम उल्लंघन हो रहा है। आवाज उठाने वाले कर्मियों पर शिकंजा कस दिया जाता है। सैकड़ों अस्थायी कर्मियों की स्थिति दयनीय है, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है।

धरना-प्रदर्शन के बाद संघ की ओर से 12 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा गया। साथ ही अल्टीमेटम दिया गया कि यदि 15 दिन के अंदर मांगों पर सार्थक पहल शुरू नहीं हुई तो प्रबंधन के खिलाफ जोरदार आंदोलन शुरू किया जाएगा। ज्ञापन में स्थानीय प्रशिक्षुओं को काम पर लेने, टीएमएसटी से उत्पादन कार्य न कराने, मैट्रिक पास कर्मचारी पुत्रों का फिर से निबंधन करने, कंपनी के आसपास की बस्तियों में मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने, एके पांडेय की बर्खास्तगी वापस लेने व बाहर की कंपनियों के कार्यदेश को रद कर स्थानीय लोगों को प्राथमिकता देना आदि शामिल है। प्रदर्शन में आनंद बिहारी दुबे के अलावा सीपी सिंह, रामबालक सिंह, शिला देवी, प्रभासी देवी, कृष्णा सिंह, औरंगजेब खां, अनुप कुमार कोया व धनंजय आदि शामिल थे। इस मौके पर एक पर्चा भी वितरित हुआ, जिसमें यूनियन के कारनामों का जिक्र किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:टाटा मोटर्स गेट पर भोजपुरी संघ का प्रदर्शन