DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्लम बस्तियों के बच्चे अब स्कूल जाएगे

एमसीडी घर बैठे बच्चों को अब स्कूलों में दाखिल करेगी। ऐसे बच्चों को स्कूलों में दाखिले को प्रेरित करने के लिए एक जून से स्लम व गरीब बस्तियों में अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए निगम स्कूलों में ग्रीष्मकालीन शिविर लगाए जाएंगे। दाखिले के लिए कश्मीरी गेट स्थित शिक्षा विभाग या नियुक्त नोडल अफसर के मोबाईल नंबर 9818399399 पर भी संपर्क किया जा सकता है।

राजधानी की सड़कों व गलियों में आवारा घूमने वाले व भीख मांग कर गुजरा करने वाले लाखों बच्चों घर बैठे हैं  और गरीबी के चलते बच्चे स्कूल नहीं जा सके हैं। एक एनजीओ ने संपर्क कर निगम के शिक्षा विभाग का ध्यान इस बारे में दिलाया है ताकि ऐसे बच्चों को दाखिले के लिए प्रेरित किया जा सके और उन्हें मुख्यधारा में लाया जा सके। इसके लिए  निगम स्कूलों के शिक्षकों को प्रशिक्षित भी किया गया है और उनसे कहा गया है कि वे आसपास की स्लम बस्तियों के कम से कम चार-पांच बच्चों का स्कूलों में दाखिला कराएं ताकि राजधानी में कोई भी बच्चा

बिना पढ़ाई के न हो। इस मामले में एनजीओ की मदद भी ली जाएगी। मेयर डा.कंवर सेन ने यह जनकारी देते हुए बताया कि जो स्कूल जाने योग्य बच्चों उन सभी बच्चों को निगम का शिक्षा विभाग दाखिल कराने के लिए प्रयास करेगा। पांच से 11 साल की उम्र के एसे सभी बच्चों को दाखिल कराने के लिए निगम पहली जून से अभियान शुरू करने जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे ऐसे बच्चों का दाखिला कराने के लिए सहयोग करें। यह कार्यक्रम सर्व शिक्षा अभियान के सहयोग से चलाया जा रहा है। शिविर में ऐसे बच्चों को दाखिल कराने के बाद जुलाई में उचित कक्षा में उसे प्रवेश दिया जएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्लम बस्तियों के बच्चे अब स्कूल जाएगे