अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एशेज में खेलने को लेकर आशान्वित हैं फ्लिंटॉफ

एशेज में खेलने को लेकर आशान्वित हैं फ्लिंटॉफ

2005 में इंग्लैंड को एशेज श्रृंखला में जीत दिलाने में अहम किरदार निभाने वाले हरफनमौला खिलाड़ी एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने कहा है कि टखने के ऑपरेशन के कारण वह ट्वेंटी-20 विश्व कप में नहीं खेल पा रहे हैं, लेकिन वह जुलाई में होने वाली एशेज श्रृंखला में हिस्सेदारी को लेकर काफी हद तक आशान्वित हैं।

ब्रिटेन के समाचार पत्र ‘द सन’ ने फ्लिंटॉफ के हवाले से लिखा है, ‘‘ट्वेंटी-20 विश्व कप में नहीं खेल पाने का मुझे मलाल है। अब मेरा एकमात्र मकसद एशेज शृंखला के लिए पूरी तरह फिट होना है। जैसा कि मैंने पहले कहा है कि मेरे करियर का सबसे अच्छा दौर गुजर चुका है, लेकिन एशेज में खेलने और ऑस्ट्रेलिया को हराने की कल्पना मात्र ही मुझे क्रिकेट में बनाए हुए है।’’

पिछले दिनों टखने की चोट से उबरने के लिए ऑपरेशन कराने वाले फ्लिंटॉफ अपने देश में पांच जून से होने वाले ट्वेंटी-20 विश्व कप के लिए समय रहते फिट नहीं हो पाएंगे। इंग्लैंड व वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने गुरुवार को ही उनके विश्व कप में नहीं खेल पाने की पुष्टि कर दी थी।

फ्लिंटॉफ को पिछले महीने चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से दक्षिण अफ्रीका मे हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दूसरे संस्करण में खेलते हुए चोट लगी थी। विश्व कप और एशेज शृंखला में खेलने के लिए फ्लिंटॉफ ने तेजी दिखाते हुए अपने टखने का ऑपरेशन करा लिया था, लेकिन अब उनके समय रहते फिट होने की कोई संभावना नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एशेज में खेलने को लेकर आशान्वित हैं फ्लिंटॉफ