DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्यारे गिरफ्तार, कहासुनी में हुई वारदात

पैसे के लेन-देन को लेकर चल रहे एक विवाद ने मंगलवार की रात उग्र रूप धारण कर लिया। इंडिका कार में सवार होकर आए दो युवकों ने चकरपुर गांव स्थित एक दुकानदार को पहले धमकाते हुए हवा में फायर किया पर बात नहीं बनने पर दूसरा फायर दुकानदार के सीने पर कर दिया। घटना में दुकानदार की मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस ने सक्रियता का परिचय देते हुए कुछ घंटों बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इंडिका सहित घटना में प्रयुक्त देशी कट्टा बरामद कर लिया है। दोनों को बृहस्पतिवार को न्यायालय के सामने पेश किया जाएगा।

घटना में मारे गए दुकानदार का नाम तैयब पिता अलसद निवासी शक्करपुर पश्चिम बंगाल था। मृतक अपने दो लड़कों व परिवार के साथ चकरपुर में रहकर टीवी मरम्मत की दुकान चलाता था। रोज की भांति वह मंगलवार रात साढ़े दस बजे के करीब अपने दोनों लड़के व उनके एक मित्र के साथ बैठा हुआ था तभी इंडिका कार नंबर एचआर 26 एई 0133 से वहीं रहने वाले निरंजन पुत्र जयप्रकाश एवं उसका दोस्त राकेश पुत्र महावीर वहां आए। पहले तो लेन-देन को लेकर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हुई और इसके बाद एक आरोपी ने हवा में फायर कर उसे डराने का प्रयास किया। जब इससे बात नहीं बनी तो उन्होंने दूसरी गोली तैयब की छाती पर दाग दी और इंडिका लेकर वहां से फरार हो गए। फायर होने से क्षेत्र में दहशत का माहौल पैदा हो गया।

सूचना मिलने पर सेक्टर 29 एसएचओ जगदीश प्रसाद दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। लहूलुहान तैयब को पास के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया पर कुछ समय बाद उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मृतक के पुत्र जाहिद अली की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज कर हमलावरों की तलाश शुरू की। एसएचओ जगदीश प्रसाद, एएसआई जय भगवान, जगदीश राय एवं हेड कांस्टेबल आरके दीक्षित ने क्षेत्र में उनकी तलाश शुरू की और कुछ समय बाद ही उन्हें उस समय धर-दबौचा जब वह इंडिका से फरार होने की कोशिश कर रहे थे। एसएचओ जगदीश प्रसाद ने बताया इंडिका हमलावरों की नहीं है। इसके बारे में पड़ताल की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हत्यारे गिरफ्तार, कहासुनी में हुई वारदात