अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वचरुअल वर्ल्ड में शिकार खोज रही हैं तमाम फर्जी आईडी

जरा बच के! ये है मोहब्बत का जल

हेलो! मेरा नाम स्टैला है। मैंने आपकी प्रोफाइल देखी। मैं आपके बारे में और ज्यादा जनना चाहती हूं। आपसे दोस्ती करना मुङो अच्छा लगेगा। अपना ई-मेल आईडी दे रही हूं। रिप्लाई जरूर करना। मेरे लिए मोहब्बत में दूरी और रंग मायने नहीं रखते। कुछ इसी तरह का फर्जी प्रेमजाल फैलाकर इन दिनों कंप्यूटर में वायरस भेजे जा रहे हैं। तकरीबन हर साइट्स पर ऐसे मेलों की भरमार हो रही है। कभी स्टेला, कभी पीस जन्सन तो कभी जेनिट के नाम से।
  

निशाने पर कम्युनिर्टी नेटवर्किग साइड्स माई कैंटोस, फेसबुक, ऑरकुट, माई स्पेस, इबीवो, यारी.कॉम और मैट्रीमोनियल साइट्स हैं। अगर आपकी आईडी इनमें से किसी पर भी है तो मेल पहुंच ही जाएगा। सबसे पहले दोस्ती और प्यार का जल फैलाया जा रहा है। अपनी आईडी दी जा रही है। रिप्लाई करने पर प्यार का नाटक रचने वाले अपना फोटो दिखाने को एक लिंक भेज रहे हैं। यही लिंक यूजर के पीसी को ‘इन्फेक्टेड’ कर रहा है। एक बार यूजर ने लिंक क्लिक  किया कि हो गया पासवर्ड चोरी। पीसी की कमांड दूसरे के हाथ चली जती है। वह कम्प्यूटर को रिमोट के जरिए कंट्रोल भी कर सकता है। पीसी में धड़ाधड़ वायरस की एंट्री होने लगती है। इनबॉक्स में फ्री एंटी वायरसों के मेल गिरने लगते हैं। इन्हें डाउनलोड किया तो और मुसीबत। इसके बाद सस्ते एँटी वायरस खरीदने के लिए ऑफर आते हैं। खरीदे तो ठीक, वरना पीसी का कबाड़ा। दुनिया भर में रोजाना लाखों पीसी वायरस का शिकार हो रहे हैं। आईटी एक्सपर्ट और टीएसपी कम्प्यूटर एजुकेशन के सीईओ रक्षित टंडन के मुताबिक इन्हें पिशिंग मेल कहा जता है। ऐसे मेल याहू और जीमेल पर चैटिंग और वीडियो चैट का इन्वीटेशन लिए भी आते हैं। अच्छा हो कि इन्हें देखते ही डिलीट कर दिया जए। लिंक, प्रोफाइल या फोटो पर तो भूलकर भी ‘कर्सर’ न ले जएँ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वचरुअल वर्ल्ड में शिकार खोज रही हैं फर्जी आईडी