अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैरों से सफलता की कहानी लिखी रानी ने

 दृढ़ इच्छाशक्ति और संकल्प से दुनिया में कोई काम असंभव नहीं है। इसे सच कर दिखाया है उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी वाराणसी के बड़ागांव विकास खंड के दल्लीपुर गांव की रानी ने जो दोनो हाथों से विकलांग है और बुधवार घोषित यूपी बोर्ड की बारहवीं की परीक्षा में 63 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं।


उसके दोनों हाथ नहीं हैं और उसने इस बार भी अपनी परीक्षा पैर से लिखकर दी। हाई स्कूल में भी वह प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुई थी। गरीब परिवार में जन्मी रानी की मेधा को देखते हुए उसे प्रधानमंत्री कोष से एक लाख रुपए की मदद भी मिल चुकी है। विकलांगता के बाद भी उसके जज्बे में कमी नहीं है। वह इंजीनियर बनना चाहती है लेकिन घर की माली हालत को देखकर फिलहाल उसने बी.एससी. की पढ़ाई करने का मन बनाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पैरों से सफलता की कहानी लिखी रानी ने