DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूरी करें मुराद

करियर में आपने अपना लक्ष्य तो तय कर रखा है, लेकिन ये नहीं जनते कि इसे कैसे हासिल किया जाए? जसे कि आपकी बदलाव की इच्छा है, मगर मन में उठ रहे सवालों के जवाब न मिलने से आप निराश हो जते हैं। क्या आप इस मामले में वाकई अकेलापन महसूस कर रहे हैं? तो अपने अहंकार को दरकिनार करके राह निकाल लीजिए, क्योंकि केवल तभी आपकी बदलाव की इच्छा पूरी हो सकती है।

अकेले नहीं आप
इस मामले में स्वयं को अकेला न समङों। करियर में आपके जसी स्थिति कई लोगों के साथ आती है। हर कोई इस मामले में अकेला होता है, क्योंकि वह अपने हिसाब से अपना रास्ता चुनना चाहता है। इसलिए रास्ते की पीड़ा भी उसे अकेले ही ङोलनी पड़ती है। अक्सर लोग ऐसी स्थिति में किसी की मदद लेने से कतराते हैं, और अंत में हार कर ही किसी से अपनी समस्या का जिक्र करते हैं। अगर आप शुरू में ही किसी का सहयोग लेकर सही दिशा में बढ़ जएं, तो करियर का लक्ष्य काफी पहले ही हासिल कर सकते हैं। बस, इसका एक ही इलाज है- अपने अहंकार पर विजय पाना। 

कैसे छोड़ें संकोच
हमें किसी की मदद लेने में संकोच इसलिए होता है कि हममें अहंकार होता है। इससे निजत पाकर हम बहुत कुछ पा सकते हैं। इसके तरीके और फायदे कई हैं-

-  जब आप किसी से मदद मांगते हैं, तो आपके भीतर का भय भाग जता है, और आपका मनोबल मजबूत होता है। इससे आपका मूल व्यक्ितत्व उभरने लगता है।  

-  इससे लक्ष्य के प्रति आपकी एकाग्रता मजबूत होती है। आप जो नहीं करना चाहते, उसकी तरफ से ध्यान हटाकर जो करना चाहते हैं, उसके प्रति फोकस करने में समर्थ होते हैं।

-  मदद के लिए संकोच का त्याग करने से आपको लक्ष्य की ओर तेजी से बढ़ने की प्रेरणा मिलती है। यह अहम बात है, क्योंेकि इसके बाद ही आप एक्शन के लिए उद्यत होते हैं। तभी आप हर समस्या और चुनौती का मुकाबला करते हुए करियर में अपनी चाहत पूरी करने में कामयाब हो सकते हैं। और आखिरकार वह दिन आ जता है, जब करियर के लिहाज से आपके मन की मुराद पूरी हो जती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पूरी करें मुराद