DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जब भरें फॉर्म

जब आप बैंक में अकाउंट खोलने के लिए, वाहन खरीदने के लिए इंश्योरेंस या क्रेडिट कार्ड खरीदने के लिए जाते हैं, उस दौरान आपसे जो पहला काम कहा जता है, वह होता है फॉर्म भरने का। हम फॉर्म भरने को महज औपचारिकता ही समझते हैं, ऐसे में हम फॉर्म को मोटे तौर से देखकर ही उसे भर देते हैं और यहीं हम गलती कर बैठते हैं। जल्दबाजी में हम फॉर्म के अंदर दिए गए नियम, शर्तो पर गौर नहीं करते। जिसका खामियाज बाद में हमें उठाना पड़ता है।

एप्लीकेशन फॉर्म ऐसा डाक्यूमेंट होता है, जिसमें कंज्यूमर और सíवस प्रोवाइडर के बीच करार होता है। ऐसे में बेहतर यही है कि फॉर्म भरते वक्त नियम और शर्तो को गौर से पढ़ लें। साथ ही क्रेडिट कार्ड कंपनी या बैंक द्वारा किए गए मौखिक वायदों के आधार पर कोई भी फैसला न लें। इस बात को ध्यान रखें कि किसी भी ऑफर या शर्त को लिखित तौर पर ही स्वीकार करें।

इंश्योरेंस का फॉर्म लेते समय भी इस बात का ध्यान रखें कि किसी और से अपना फॉर्म न भरवाएं। इस बात की भी जंच कर लें कि आपका फॉर्म सही तरीके से भरा गया है या नहीं। साथ ही फॉर्म में दी गई जनकारी को चेक कर लें। अकसर इंश्योरेंस एजेंट कुछ प्रश्नों के उत्तरों में संशय की स्थिति बनाकर रखते हैं या फिर कुछ ज्यादा बढ़ा-चढ़ा कर बताते हैं। इस तरह की बातों से बचने की जरूरत है। 

-  क्रेडिट कार्ड कंपनी, बैंक या इंश्योरेंस एजेंट द्वारा किए जने वाले मौखिक वायदों पर कतई भरोसा न करें। 
-  किसी भी ऑफर को लिखित तौर पर ही स्वीकार करें। 
-  फॉर्म भरते समय नियम और शर्तो को सावधानी पूर्वक पढ़ें। भरे हुए फॉर्म की एक कॉपी अपने पास रखना न भूलें।
-  इंश्योरेंस के मामले में गलत जनकारी आने वाले समय में आपके क्लेम पर फ़र्क डाल सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जब भरें फॉर्म