DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो महीना पहले से डेंगू, मलेरिया से लड़ने की तैयारी

स्वास्थ्य विभाग डेंगू और मलेरिया को लेकर दहशत में है। इसका सीजन शुरु होने के दो महीना पहले से ही सुपरवाइजरों और संबंधित अधिकारियों की इसकी रोक-थाम को लेकर बैठक हुई है। रोक-थाम अभियान को कारगर बनाने के लिए प्रोजेक्ट अधिकारी को बदल दिया गया है। बैठक में टीम के प्रत्येक सदस्यो को फिल्ड में जा कर रिपोर्ट तैयार करने की हिदायत दी गई। इसके साथ संवेदशनशील क्षेत्रों की सूची तैयार कर एक सप्ताह के भीतर सौपने को कहा है।


पिछले वर्ष गुड़गांव के बाद फरीदाबाद में डेंगू और मलेरिया के सर्वाधिक मरीज सामने आए थे। इससे सीख लेते हुए स्वास्थ्य विभाग ने अभी से इसपर अंकुश लगाने की तैयारी शुरु कर दी है। इस मसले पर चर्चा करने को रोज दस बजे बैठक होगी। मलेरिया अधिकारी डॉ ओम प्रकाश मेहता ने बताया कि बैठक में सभी फील्ड वर्कर्स को संवेदनशील क्षेत्रों की पहचान कर सूची सौंपनी होगी। इसकी समीक्षा के आधार पर आगे की रणनीति तैयार की जाएगी। उनका मानना है कि पिछले वर्ष अभियान के दौरान फील्ड स्टाफ और कर्मचारियों में तालमेल होने के कारण रोग को फैलने का मौका मिल गया। पिछले वर्ष प्लानिंग का अभाव भी देखा गया था। संसाधनों की भी कमी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो महीना पहले से डेंगू, मलेरिया से लड़ने की तैयारी