अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्र संगठनों व छात्रों ने करीब डेढ़ घंटे तक एनएच जाम रखा

एक तरफ एनएच-80 जाम तो दूसरी तरफ, धरना। अलग-अलग प्रदर्शन लेकिन मकसद कुलपति डा. प्रेमा झ की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी। पीजी प्रीवियस की परीक्षा की तिथि बढ़ाने के मुद्दे पर विवि प्रशासन के दो वरीय अधिकारियों द्वारा 24 घंटे के अंदर दिए गए विरोधाभासी बयानों, हंगामा, छात्र नेता की पिटाई के आरोप, दोनों तरफ से मुकदमे के बाद एक दिन पहले कुलसचिव द्वारा कुछ अन्य छात्रों पर किए गए मुकदमे से उग्र हुए छात्रोंव उनके समर्थन में छात्र राकांपा, आइसा और एआईएसएफ ने बुधवार को टीएनबी कॉलेज के पास एनएच जम कर दिया।

प्रदर्शन का नेतृत्व छात्र राकांपा के प्रदेश महासचिव अविनाश कुमार, आइसा के गौरीशंकर, एआईएसएफ के संजीव कुमार कर रहे थे। प्रदर्शनकारी विवि प्रशासन और कुलपति के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे और कुलपति को गिरफ्तार करने व बर्खास्त करने की मांग कर रहे थे। इस दौरान परबत्ती और नाथनगर के बीच आवागमन बाधित रहा। पैदल यात्रियों को छोड़ अन्य किसी भी यात्री को छात्र एक से दूसरी तरफ नहीं जने दे रहे थे। बाद में डीएसपी अली अंसारी के समझने और आयुक्त व एसपी से मिलकर अपनी बात रखने की शर्त पर छात्रों ने जम हटाया।

अविनाश कुमार ने बताया कि वह, गौरीशंकर, पीजी प्रीवियस के छात्र रमेश, जीतेन्द्र और युवा शक्ति के जिलाध्यक्ष कुंदन यादव प्रतिनिधि मंडल के रूप में एसपी बच्चू सिंह मीणा से मिले और अपनी समस्या रखी। उन्होंने बताया कि एसपी ने उन्हें आश्वस्त किया है कि मुकदमे की बाबत कोई भी कार्रवाई पूरी जांच के बाद की जएगी।

छात्र राजद ने रवीन्द्र रवि पर जनलेवा हमले का आरोप लगाते हुए विरोध में और छात्रों पर हुए मुकदमे को फर्जी बताते हुए उसे वापस लेने की मांग पर विवि प्रशासनिक भवन परिसर में विवि अध्यक्ष डा. आनंद आजद की अध्यक्षता में धरना दिया। धरना को संबोधित करते हुए आनंद आजद ने कुलाधिपति और मुख्यमंत्री से कुलपति को बर्खास्त करने और पुलिस प्रशासन से कुलपति को गिरफ्तार करने की मांग की।

राजद के जिलाध्यक्ष डा. चक्रपाणि हिमांशु ने भी विवि प्रशासन पर कई आरोप लगाते हुए कुलपति को बर्खास्त करने की मांग की। मंच संचालन विवि महासचिव जीतेन्द्र कुमार ने किया। प्रदर्शन में अधिवक्ता डा. दिवाकर यादव, डा. तिरुपतिनाथ, डा. गोपाल महाराणा, वरीय उपाध्यक्ष शशि कुमार यादव, महानगर अध्यक्ष दिलीप कुमार, प्रवक्ता सत्यप्रकाश सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल थे।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वीसी की गिरफ्तारी, बर्खास्तगी के लिए जाम और धरना