अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्कूली बच्चों को प्रशिक्षण देगी ट्रैफिक पुलिस

अमूमन सड़क दुर्घटनाएं ट्रैफिक नियम की जानकारी के अभाव में होती है। इस अज्ञानता से ना केवल पैदल चलने वाले राहगीर अपना नुकसान करते हैं बल्कि उनकी लापरवाही से कुछ वाहन चालकों को भी काल के गाल में समाना पड़ता है। कई बार पैदल चलने वाले राहगीरों के कारण वाहन चालकों को गिरकर हाथ पांव भी तुड़वाने पड़ते हैं।

ऐसी ही समस्या से निजात पाने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने एक प्रोजेक्ट तैयार किया है जिसमें सबसे पहले आम नागरिकों को ट्रैफिक नियम के बारे में बताया जाएगा। इस जागरूकता अभियान को चलाने के लिए ट्रैफिक पुलिस एनजीओ की भी मदद लेगी। अभियान को शुरू करने से पूर्व शहर के कुछ स्कूलों का चयन किया गया है। जहां छात्र- छात्राओं को ट्रैफिक नियम के तहत पैदल सड़क पार करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इसके लिए हरेक स्कूल में ट्रैफिक पुलिस खुद कैंप लगाकर छात्रों को ट्रैफिक के बारे में बताएगी। ट्रैफिक डीएसपी पीसी झा ने बताया कि जल्द ही इस अभियान को शुरू किया जाएगा। स्कूली छात्र- छात्राओं के अलावा आम शहरी को भी इसकी जानकारी पुलिस एनजीओ के साथ मिलकर देगी।

डीएसपी ने बताया कि प्रथम चरण में वाहन चालकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। सप्ताह में एक दिन झरिया स्थित एक मैदान में सभी तीन पहिया, व चार पहिया वाहन चालकों को बुलाकर ट्रैफिक नियम के बारे में बताया जा रहा है। इसके बाद अंचल स्तर पर भी वाहन चालकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्कूली बच्चों को प्रशिक्षण देगी ट्रैफिक पुलिस