अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उपायुक्त हजारीबाग दस्तावेज के साथ हाजिर हों

 झारखंड उच्च न्यायालय की एकलपीठ ने राजकुमार पांड की याचिका पर सुनवाई के उपरांत हजारीबाग के उपायुक्त को निर्देश दिया कि वह संबंधित प्लाट के दस्तावेज के साथ अदालत में उपस्थित हों।

प्रार्थी द्वारा दायर याचिका में कहा गया था कि हजारीबाग जिले के केरेडरी प्रखंड के ग्राम केयोकलाली में उसकी रैय्यती जमीन है। उक्त जमीन पर नरेगा योजना के तहत बगैर उसकी अनुमति के सड़क बनाई जा रही है। इस संबंध में लिखित सूचना भी दी गई, परंतु कोई कार्रवाई नहीं की गई। स्थल पर आपत्ति करने पर उसकी पिटाई भी कर दी गई थी। प्रार्थी के ओर से राम अवतार चौबे ने पक्ष रखा।

दस्तावेज प्रस्तुत करने का निर्देश

हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश ज्ञान सुधा मिश्रा एवं प्रदीप कुमार की खंडपीठ ने नसीम अहमद द्वारा जनहित याचिका सुनवाई के उपरांत सरकार को निर्देश दिया कि आयुष द्वारा नियुक्ति किए गए चिकित्सकों व असफल उम्मीदवारों से संबंधित दस्तावेज अदालत को प्रस्तुत करें। ज्ञात हो कि प्रार्थी द्वारा दायर जनहित याचिका में कहा था कि आयुष द्वारा नियुक्त किए गए चिकित्सकों की नियुक्ति में अनियमितता बरती गई है। इसकी जाचं कार्रवाई जाए।

उच्च न्यायालय में ग्रीष्मावकाश

झारखंड उच्च न्यायालय ग्रीष्मावकाश के कारण 29 मई से 20 जून तक अवकाश रहेगा। ग्रीष्मावकाश में अतिआवश्यक मामलों की सुनवाई 2,3,4,8,9,10,15,16 व 17 को अवकाश पीठ मामलों की सुनवाई करेगी।

अवकाशकालीन पीठ प्रात: 9 बजे से बैठेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उपायुक्त हजारीबाग दस्तावेज के साथ हाजिर हों