अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संपत्ति की समीक्षा

निवेश के लिहाज से यह जनना बेहद जरूरी है कि आपका पोर्टफोलियो बेहतर रहे। अगर आपका पोर्टफोलियो मिश्रित है तो यह आपके जोखिम सहने और आपकी आय की जरूरतों को दर्शाता है। पोर्टफोलियो मिश्रित होने का मतलब है कि आपके पास बांड, स्टॉक, यूलिप सरीखे फंड हैं। अपने पोर्टफोलियो पर नजर डालते वक्त यह भी ध्यान में रखें कि आपका निवेश आपकी जरूरतों को पूरा करता हो, साथ ही जिन उद्देश्यों को ध्यान में रखकर आपने निवेश किया है, उस पर पूरी तरह खरा उतरे। 

आíथक स्थिति का आकलन
अपने आíथक उद्देश्यों को पहचान लें। इसके लिए जरूरी है कि आपको यह जनकारी हो कि आपकी जरूरतें क्या हैं और आपको कितनी आय चाहिए। हालांकि ऐसा माना जता है कि जितना ज्यादा रिस्क लेंगे, वह उतना ही फायदेमंद साबित होगा। लेकिन अपनी आíथक क्षमता को जंच कर ही रिस्क लें तो बेहतर। साथ ही आप दीर्घकालिक निवेश करना चाहते हैं या फिर शॉर्ट टर्म, इसको सोच कर निवेश करें।

निवेश का उद्देश्य
आपके निवेश का उद्देश्य क्या है, क्या आप निवेश की गई राशि से होने वाली आय पर ही निर्भर हैं या दीर्घकालिक निवेश करके अपने ग्रोथ पोटेंशियल को बढ़ाना चाहते हैं यानी आप पोर्टफोलियो से होने वाली आय पर निर्भर नहीं हैं। इस स्थिति में आप ज्यादा रिस्क ले सकते हैं। जहिर है आप जिस उम्र में निवेश कर रहे हैं, उसके अनुसार आपकी प्राथमिकताएं भी अलग होंगी।

पोर्टफोलियो करें एडजस्ट
अपने पोर्टफोलियो को बाजर की स्थिति के अनुसार बदलते रहें। लगातार अपनी संपत्तियों का पुर्नवलोकन करें जिससे आपको जरूरी बदलाव की जनकारी मिलती रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:संपत्ति की समीक्षा