अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

द. अफ्रीका में भारतीय सितारों का क्रेज

द. अफ्रीका में भारतीय सितारों का क्रेज

इंडियन प्रीमियर लीग में क्रिकेट के साथ-साथ बॉलीवुड का जादू भी खूब सिर चढ़ कर बोला। यह अलग बात है कि बॉलीवुड सितारों प्रीति जिंटा, शिल्पा शेट्टी और शाहरुख खान की टीमें सेमीफाइनल में नहीं पहुंच सकीं। दक्षिण अफ्रीका में रह रहे भारतीय ही नहीं, बल्कि गोरे और अफ्रीकी मूल के काले लोग भी शाहरुख खान और प्रीति जिंटा के दीवाने हो गए थे। शिल्पा शेट्टी के प्रति लोगों में ज्यादा दिलचस्पी नहीं रही। उनकी छोटी बहन शमिता शेट्टी के बारे में तो लोग जनते भी नहीं कि वह भी फिल्मों में अभिनय करती हैं।

क्रिकेट में ज्यादा दिलचस्पी न रखने वाले लड़के, लड़कियां और महिलाएं भी जमकर इनके बारे में पूछते मिले। प्रीति जिंटा तो एक तरह से यहां भारतीय महिलाओं की ब्यूटी की ‘ब्रैंड एम्बेस्डर’ बन गई थीं। इस संवाददाता के साथ प्रीति का फोटो देख केप टाउन के किंग्सवुड होटल की केयरटेकर 45 साल की ब्रिटिश मूल की शर्ली एक दिन खुशी से उछलते हुए बोलीं, ‘इस लड़की को तो मैंने मैच में टीवी पर देखा था। ये तो बहुत ही क्यूट और प्रिटी है। इसके कंधे से नीचे लटकते लंबे बाल मुङो बड़े अच्छे लग रहे हैं। इंडिया में लड़कियां बहुत खूबसूरत होंगी। मुङो नहीं पता था कि इंडिया में ऐसी आकर्षक लड़कियां भी होती हैं। इंडियन लड़के खुशकिस्मत हैं कि उनके देश में प्रीति जसी खूबसूरत लड़कियां हैं। प्रीति का हेयर कट युवा लड़कियों में लोकप्रिय होता नजर आया।

दिल्ली डेयर डेविल्स के ग्लैन मैक्ग्रा तो प्रीति की मुस्कुराहट के खास कायल हैं। उन्होंने कहा, ‘प्रीति की मुस्कुराहट बहुत ही ब्यूटीफुल है, लेकिन वह विपक्षी टीम की हैं, इसलिए ज्यादा तारीफ नहीं कर सकता।’ शुरुआत में एक समय किंग्स इलेवन पंजब टीम के लगातार दो मैच जीतने से प्रीति का क्रेज और बढ़ गया था। लोग यहां इनकी अदाओं पर खूब फिदा दिखाई दिए। स्टेडियम में जब प्रीति दर्शकों की तरफ अपनी टीम की जर्सी बांटती थीं तो भीड़ दीवानों की तरह टूट पड़ती थी। अपनी टीम के लिए समर्थन जुटाने के लिए प्रीति लोगों को कागज के टुकड़े पर, टिकट पर, शर्ट पर और जकेट पर, यानी जो जहां ऑटोग्रॉफ मांगता था, उसे ‘लव, प्रीति जिंटा’ लिखकर खिलखिलाते हुए देती थीं। यहां के सुपर स्पोर्ट्स चैनल पर भी शाहरुख और प्रीति छाए रहते थे। अखबारों में इनके फोटो छपते रहे। प्रीति का मंदिर जकर पूज करना और अपनी टीम के खिलाड़ियों को प्रसाद बांटना भी सुर्खियां बटोरता था।

 मैचों के दौरान शाहरुख और प्रीति दर्शकों के साथ सम्पर्क भी खूब अच्छे तरीके से बनाते रहे,जबकि शिल्पा तो बस राजस्थान रॉयल्स के रॉयल बाक्स में ही बैठी रहती थीं। एक चैनल के अधिकारी के अनुसार, ‘प्रीति का इंटरव्यू तो मैदान में मिल जता है, लेकिन शिल्पा के लिए तो ऊपर बाक्स में ही जना पड़ता है, वह नीचे आतीं ही नहीं।’ मैदान में तो शाहरुख भी कम उतरते थे, लेकिन वह तो बॉक्स में बैठे-बैठे ही सिर झुकाकर या कभी-कभी कमर झुकाकर आदाब करने से लेकर फ्लाइंग किस करके ही दर्शकों को अपनी तरफ आकर्षित करते रहते थे। लोग कोलकाता नाइट राइडर्स की जर्सी पहनकर शाहरुख को आवाजें देकर दिखाते थे कि वे उनकी टीम का समर्थन कर रहे हैं। शाहरुख जब मुंबई में लोकसभा चुनाव में वोट डालने के लिए स्वदेश पहुंचे तो अफ्रीका में उनके चाहने वाले कुछ निराश हो गए थे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:द. अफ्रीका में प्रीति का क्रेज