अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फ्रांस-पाक में हो सकता है एटमी करार

फ्रांस-पाक में हो सकता है एटमी करार

फ्रांस व पाकिस्तान आपसी परमाणु सहयोग कर सकते हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति निकोलस सरकोजी के नजदीकी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वह समझौते पर हस्ताक्षर करने के लिए निकट भविष्य में पाकिस्तान की यात्रा कर सकते हैं।

सूत्रों ने बताया कि परमाणु सुरक्षा सहित कई अन्य मुद्दों पर दोनों देशों के राजनयिकों के बीच बातचीत चल रही है। वर्ष 2004 में एक पाकिस्तानी वैज्ञानिक के परमाणु तकनीक के स्कैंडल में संलिप्त होने के बाद यह एक बड़ा मुद्दा बन गया है। सूत्रों ने बताया कि समझौते को लेकर दोनों देशों में बातचीत चल रही है।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सरकोजी और पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी गत 15 मई को पेरिस में मिले थे, जहां भारत जैसी ही परमाणु सामग्री संबंधी समझौते को लेकर दोनों के मध्य चर्चा हुई थी। लेकिन वास्तव में इस संबंध में सरकोजी ने जरदारी से क्या कहा इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

पेरिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकोजी चाहते हैं कि पाकिस्तान अपने परमाणु हथियारों की सुरक्षा को और पुख्ता करे और यदि इस दिशा में पाकिस्तान को किसी मदद की आवश्यकता है तो वह करने को तैयार हैं। फ्रांस को यह भी भय है कि भारत जैसी परमाणु संधि पाकिस्तान से करने के बाद वहां से उसके चोरी होने या जानकारी लीक हो सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फ्रांस-पाक में हो सकता है एटमी करार