अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जालंधर में स्थिति बिगड़ने पर सेना तलब

जालंधर में स्थिति बिगड़ने पर सेना तलब

ऑस्ट्रिया में रविवार को गुरुद्वारे पर हुए हमले में सिख गुरु की मौत तथा अनेक लोगों के घायल होने के बाद जालंधर में विरोध कर रही हिंसक भीड़ ने सोमवार को जालंधर कैंट रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के कोचों को आग के हवाले कर दिया। भीड़ ने राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या एक को भी अवरुद्ध कर दिया। इस बीच पंजाब के फगवाड़ा में हिंसा फैलने के बाद कफ्यू लगाया गया और अद्र्धसैनिक बल तैनात किए गए।

ऑस्ट्रिया की राजधानी विएना के एक गुरुद्वारे में रविवार का हुई हिंसा को लेकर जालंधर में हालात बिगड़ गए हैं। रविवार रात कफ्र्यू लगाने के बाद अब वहां सुरक्षा मुस्तैद करने के लिए सेना तैनात कर दी गई है।

विएना के एक गुरुद्वारे में हुई हिंसा में सोमवार को एक ग्रंथी की मौत हो गई जबकि एक अन्य गुरु सहित 30 लोग घायल हो गए। दूसरे गुरु की हालत स्थिर है।

पुलिस प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि दो प्रतिद्वन्द्वी सिख गुटों के बीच रविवार को हुई हिंसा में घायल गुरु संत रामानंद-56 ने सोमवार को अस्पताल में दम तोड़ दिया। गुरु रामानंद ऑस्ट्रिया की यात्रा पर आए थे। दोनों समुदायों के लोगों ने कम से कम एक बंदूक और कृपाणों से एक दूसरे पर वार किए।

ग्रंथी का ईलाज कर रहे डॉक्टर ने पहले तो बताया कि इमरजेंसी ऑपरेशन के बाद मरीज की हालत ठीक है लेकिन बाद में उन्होंने कहा कि ग्रंथी बेहोश हो गए और आधी रात के बाद उन्होंने दम तोड़ दिया। दूसरे ग्रंथी 66 वर्षीय संत निरंजन दास की हालत स्थिर बताई गई है।

वहीं सेना ने सर्वाधिक हिंसा प्रभावित बुट्टा मंडी क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया। प्रदर्शनकारियों ने रेलवे स्टेशनों पर ट्रेनों और छावनी क्षेत्रों पर पथराव किया। जालंधर से ट्रेनों का आवागमन रद्द कर दिया गया है। पुलिस आयुक्त ने लोगों से घरों में रहने और शांति बनाए रखने की अपील की है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जालंधर में स्थिति बिगड़ने पर सेना तलब