DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आत्मविश्वास बढ़ता है,खूबसूरती से

आत्मविश्वास बढ़ता है,खूबसूरती से

उषा अल्बुकर्क कॅरियर काउंसलर


जो लड़कियां इंटरव्यू में अपने को बेहतर रूप से प्रजेंट करती हैं, उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ जता है। सजने-संवरने का मतलब चीप मेकअप नहीं, बल्कि बढ़िया ड्रेस सेंस और अपने को प्रजेंटेबल बनाना है। इसका फायदा यह होता है कि इंटरव्यू लेने वाले आपसे बात करने को इच्छुक रहेंगे। कई बार ऐसा होता है कि आप इंटरव्यू के लिए काफी तैयारी किए रहते हैं लेकिन आपकी ड्रेस और मेकअप ऐसा होता है जिससे लगता है कि आपमें आत्मविश्वास की कमी है। इसका नतीज यह होता है कि इंटरव्यू बोर्ड द्वारा पूछे गए आसान सवाल भी आपको उलझ सकते हैं। इसीलिए यह सही है कि इंटरव्यू में अपने को सही रूप में प्रजेंट करने का बहुत फायदा होता है और सलेक्शन होने का चांस ज्यादा रहता है।


तो बात बन जाए

अरुणा ब्रूटा मनोचिकित्सक
सजने संवरने का इंटरव्यू में एक हद तक फायदा होता है। आत्मविश्वास काफी बढ़ जता है। अगर इंटरव्यूू देने से पहले ही यह महसूस हो कि आज मैं अच्छी नहीं लग रही हूं या ड्रेस में कुछ कमी रह गई है तो कांफिडेंस लेवल काफी नीचे गिर जता है। लेकिन सजने संवरने का मतलब यह नहीं है कि आप बॉस को सेक्सुअली आकर्षित करने की कोशिश कर रहे हों या फिर ज्यादा हाई प्रोफाइल लग रही हों। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि ढंग से तैयार होने के साथ-साथ इंटरव्यू के समय च्वाइस ऑफ वर्ड्स का ठीक से ध्यान रखना चाहिए। ऐसा न हो कि सजने संवरने में ही सारा ध्यान रह गया हो और विषय वस्तु की कोई जनकारी न हो। इसीलिए सजने संवरने के साथ तथ्यों की भी जनकारी रखनी चाहिए।

आकर्षक होना प्लस प्वाइंट


प्रीति वास्तव वाइस प्रेसीडेंट, रिलायंस इंडस्ट्रीज कारपोरेट आफिस
जॉब सलेक्शन में उम्मीदवार की पर्सनैलिटी का भी ध्यान रखा जता है। उसका सेलेक्शन करने में हमारी अपेक्षा होती है कि उसकी पर्सनैलिटी इतनी आकर्षक हो कि क्लाइंट उसे देखकर ही प्रभावित हो जए। इंटरव्यू में लुक के साथ पर्सनैलिटी-गेटअप पर भी माक्र्स दिए जते हैं। उम्मीदवार की जनकारी के साथ उसका प्रेजेंटेशन बढ़िया हो तो सेलेक्शन होने के चांस सौ फीसदी होते हैं। आजकल ज्यादातर कारपोरेट घराने ऐसा कर रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आप संवरीं ,संवरी जिंदगी