DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा महासचिव पद से आजम का इस्तीफा

लोकसभा चुनाव के दौरान अपनी ही पार्टी के विरोध में रहे समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खाँ ने रविवार को पार्टी के संसदीय बार्ड की सदस्यता और महासचिव पद स इस्तीफा द दिया। आजम सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह की कल्याण सिंह के साथ दोस्ती से खासे नाराज थे। वह सिने अभिनेत्री जयाप्रदा को रामपुर से दोबारा उम्मीदवार बनाए जाने का भी विरोध कर रहे थे। आजम ने अपने इस्तीफे का निर्णय उस समय लिया जब रविवार को दिल्ली में सपा के संसदीय बोर्ड की बैठक चल रही थी।ड्ढr पिछले छह महीने से आजम खाँ ने बोर्ड की किसी भी बैठक में शिरकत नहीं की है। संसदीय बोर्ड की बैठक में इस बात पर निर्णय लिया जाना था कि आजम खाँ पर किस तरह की अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए। जया प्रदा ने इस आरोप को खारिा कर दिया कि आजम के इस्तीफे की वजह वह हैं। लेकिन कहा कि आजम पूरी तरह से पार्टी विरोधी गतिविधियों में लगे रहे।ड्ढr संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद पत्रकारों से रूबरू अमर सिंह ने कहा कि आजम खाँ मेरे बड़े भाई थे,बड़े भाई हैं,और रहेंगे। मेरी ओर से उनके प्रति कोई गलतफहमी नहीं है, लेकिन यह अच्छा होता कि वह अपनी नाराजगी सार्वजनिक रूप से बयान देकर न करते बल्कि आज यहाँ संसदीय बोर्ड की बैठक में बन्द कमरे में करते। फिर भी मैं उन्हें दिल से माफ करता हूँ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सपा महासचिव पद से आजम का इस्तीफा