अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांव-कांव

आडवाणी दुखी, लेंगे संन्यासड्ढr दिल का खिलौना हाय टूट गया- शिव, चासड्ढr और गायेंगे, जब दिल ही टूट गया- जीतेंद्र तिवारी, भरनोड्ढr ले लीजिए, लालू जी की बददुआ लग गयी आपको- डॉ हर्षदेव गुप्ताड्ढr काहे वेटिंग कन्फर्म नहीं हुआ का- आशीष अग्रवाल, राजगंजड्ढr और सोनिया-मनमोहन लेंगे चैन की सांस- अहसाना फिरदौसड्ढr हां, अब प्रवचन करने लायक ही हो गये हैं- इम्तियाज, गिरिडीहड्ढr मालाओं की जम कर हुई खरीदारीड्ढr जीतने पर मिलेगी फूलों की माला, मतलब माल ला- अनिल, झारसुगुड़ाड्ढr लालू-पासवान गठबंधन ध्वस्तड्ढr चलो एक बार फिर से अजनबी बन जायें हम दोनों- 0ड्ढr आपलोग की चबिया कौआ ले गया का- अजय राय, चासड्ढr मालूम था, जो गराता है उ बरसता नहीं है- जगन्नाथ, डोमनपुरड्ढr न घर के न घाट के- अमित चौबे बाबू, केतातड्ढr कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं होना भूल : लालूड्ढr अपना संगे-संगे पासवान जी को भी डुबाये न- मुकेश, मांझीडीहड्ढr चार गो सीट वाला से मैडम झाड़ुओ नहीं लगवायेंगी- अबकी मुखिया का चुनाव मिलके लड़ लीजिएगा- नीलकंठ चंद्रवंशीड्ढr बनने चले थे प्रधानमंत्री, बन गये पावदान मंत्री- एके दुबे, पूर्वडीहाड्ढr कैंची ने हाथ और फूल दोनों को कुतर डालाड्ढr अब इहे कैंचिया ये मोटा-मोटा बोरा कटायेगा- काशिफ, जंतगढड़्ढr यूपीए एनडीए से समान दूरी : मरांडीड्ढr वैसे भी अकेला चना भांड़ नहीं फोड़ सकता- अहसान अहमदड्ढr घर में झाड़ू हमेशा छिपा कर रखेंड्ढr वरना नाश्ता में बेलन के साथ इहो पड़ सकता है- धनबाद की जनता ने बीजेपी को वोट दिया : कुंतीड्ढr लेकिन आपने तो कार्यकर्ताओं के साथ हाथ वाला बटन दबाया था- मिंटूड्ढr कांग्रेस के कारण नुकसान : पासवानड्ढr बंगला में टयूब की जगह लालटेन जलाइयेगा का- बिल्लो, धनबादड्ढr गोरखपुर से मनोज तिवारी चुनाव हारड्ढr अब गाइये, गोरखपुर में चुनरी लुटाइल, आजमगढ़ में मुंदरी- मुकुल जीड्ढr आखिर नहीं खुला लालू के आवास का गेटड्ढr भक बुड़बक! ललटेनिये पर कौनो गोयठा ठोक दिया है-0

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कांव-कांव