DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस ने तोड़ा जातीय राजनीति का चक्रव्यूह

पूर्वाचा में कांग्रेस ने जातिगत राजनीति का चक्रव्यूह तोड़ दिया। पूर्वाचा में कांग्रेस करीा आधा दर्जन सीटें हासिा कीं। जातीय विद्वेष भूा कर कांग्रेस के चार क्षत्रिय उम्मीदवारों कोो्राह्मणों के वोट मिो और वह संसद तक पहुँच गए। इसी तरहो्राह्मण उम्मीदवारों को ठाकुर वोट मिो। घोसी और सोमपुर जसी सीटों पर हार कर भी कांग्रेस को डेढ़ोाख से ऊपर वोट मिो।ड्ढr पूर्वाचा में कांग्रेस की जमीन पाँच साा पहो तैयार हो गई थी। प्रदेश कांग्रेस के तत्कााीन अध्यक्ष जगदमिका पाा ने पूर्वांचा केोिए जो रणनीतिोनाई वह काफी हद तक कामयाा रही। पाा फामरूो के कारण ही 2004 के चुनाव में पूर्वाचा में 10 उम्मीदवारों को एकोाख से ज्यादा वोट मिो थे ोकिन ता महावीर प्रसाद व राजेश मिश्र के आावा कोई प्रत्याशी चुनाव नहीं जीत सका।ड्ढr ोकिन इस दफा कांग्रेस कीोहर ने इन प्रत्याशियों की नैया पारोगा दी। पूर्वाचा में सपा औरोसपा ने जातीय समीकरणों को ध्यान में रखकर अपने उम्मीदवार उतार थे। जाकि राहुा गांधी ने अपने अधिकांश पुराने खिााड़ियों पर ही फिर दाँवोगाया। विकास की हवा ऐसीोही की पूर्वाचा मेंो्राह्मण-क्षत्रिय केोीच परम्परागत विद्वेष की खाई पटती नजर आई। जात-पात भूा कर जनता ने कांग्रेस को वोट दिया। डुमरियागंज से पाा को पिछो चुनाव में करीा डेढ़ोाख वोट मिो थे। इसोार उन्हें दोोाख से ज्यादा वोट मिो। उनके खिााफ विधानसभा अध्यक्ष रहे सपा के माता प्रसाद पांडे तीसर नमर पर रहे।ो्राह्मणोहुा क्षेत्र होने केोावजूद उन्हें केवा 60 हाार वोट मिो।ड्ढr महाराज गंज से हर्षवर्धन सिंह को पिछो चुनाव में एकोाख 61 हाार वोट मिो थे। वह तीसर नमर पर थे। उन्हें तीनोाख से ज्यादा वोट मिो। उन्होंनेोसपा के अपने प्रतिद्वंद्वी गणेश शंकर पांडे को हराया जिन्हें एकोाख अस्सी हाार वोट मिो। कुशीनगर में कांग्रेस के आरपीएन सिंह को दोोाख से ज्यादा वोट मिो। उनके मुकााो मेंोसपा के स्वामी प्रसाद मौर्या और भाजपा के विनय दुो थे। दुो तीसर नमर पर रहे।ड्ढr श्रावस्ती से कांग्रेस के विनय कुमार पांडे को दोोाख से ज्यादा वोट मिो। यहाँ भाजपा के सत्यदेव सिंह चुनावोड़ रहे थे। श्रावस्ती में क्षत्रिय मतदाताओं की संख्याोाखों में है। इसी आधार पर उन्हें भाजपा ने टिकट भी दिया था। ोकिन श्री सिंह को केवा 48 हाार वोट मिो। जाहिर है इन मतदाताओं का रुझान पांडे की तरफ गया। ड्ढr प्रतापगढ़ में कांग्रेस की राजकुमारी रत्ना सिंह चुनाव जीतीं। यहाँ भाजपा नेोक्ष्मी नारायण पांडे को टिकट दिया था। प्रतापगढ़ में पांडे तीसर नमर पर चो गए। उन्हें केवा 45 हाार वोट मिो।ड्ढr सुातानपुर में संजय सिंह को भी जातोिरादरी से ऊपर उठ कर वोट मिो। संजय सिंह के खिााफ सुातानपुर में सपा ने अशोक पांडे को टिकट दिया था। यहाँ पांडे नेक छवि के प्रत्याशी थे। ोकिन वह एकोाख वोटों में सिमट गए जाकि संजय सिंह को तीनोाख से ज्यादा वोट मिो। सुातानपुर मेंो्राह्मण वोटरों ने संजय सिंह को जमकर वोट दिया।ड्ढr सिर्फ पूर्वाचा ही नहीं प्रदेश के अन्य हिस्सों में भी यह ट्रेंड दिखा। उन्नाव या फैााद में खत्री वोट सैकड़ों में भी नहीं फिर भी अनु टंडन और निर्मा खत्री रिकार्ड वोटों से चुनाव जीत गए। झाँसी में प्रदीप जन आदित्य कीोिरादरी के वोट ऊँगाियों पर गिने जा सकते हैं। पर वह जीत गए।ड्ढr ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कांग्रेस ने तोड़ा जातीय राजनीति का चक्रव्यूह