अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालू पर सोनिया की नरमी से प्रदेश संगठन ठंडा

यूपीए की बैठक में बुधवार को लालू प्रसाद यादव के भविष्य पर कोई चर्चा न होने के कारण कांग्रेस नेताओं में यह चर्चा गरम हो गई है कि इस मामले पर दस जनपथ ने अपना फैसला रिार्व रख लिया है। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार, राजद से दोस्ती के खिलाफ बिहार प्रदेश संगठन तथा कई वरिष्ठ नेताओं के खुलकर मैदान में आने के बावजूद लालू के प्रति सोनिया गांधी का नरम रुख बरकरार है। पटना स्थित लालू के आवास की सुरक्षा में तैनात रलवे प्रोटक्सन फोर्स को मंगलवार को हटाना तथा बुधवार को उसकी पुन: बहाली को भी दिल्ली में इसी रुख के परिपेक्ष में लिया जा रहा है। जनपथ के नरम रुख के कारण प्रदेश संगठन का लालू विरोधी अभियान भी ठंडा पड़ने लगा है। दिल्ली में डेरा डाले प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष आनन्द शर्मा ने ‘हिन्दुस्तान’ को लालू प्रकरण पर बताया कि राज्य के कांग्रेसी कार्यकर्ता अकेले ही आगामी विधानसभा लड़ना चाहते हैं। इस बार हमार ठोस तर्क भी हैं। लालू से गठबंधन कर बिहार में कांग्रेस की हालत में सुधार असंभव है। इस बार भी लोगों ने लालू के केन्द्र में मंत्री रहने तथा राज्य में एक-दूसर के खिलाफ चुनाव लड़ने को ज्यादा गम्भीरता से नहीं लिया और इसे कांग्रेस तथा लालू की नूराकुश्ती की संज्ञा दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लालू पर सोनिया की नरमी से प्रदेश संगठन ठंडा