अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूरत एक्सप्रेस काकफलिन टूटा,टला हादसा

बाढ़ रलवे क्रॉसिंग के पास बुधवार की शाम 047 सूरत-भागलपुर एक्सप्रस का कपलिंग टूट गया। इस वजह से इंजन, एक एसी थर्ड बोगी और पांच जेनरल बोगी को लेकर आगे बढ़ गया व बाकी सभी बोगियां पीछे छूट गई। बाद में ड्राइवर ने ट्रन को रोका व पीछे लाकर बाकी बोगियों को साथ जोड़ा। इस दौरान स्टेशन पर अफरातफरी की स्थिति हो गयी। वरीय रल अधिकारियों को तत्काल इसकी जानकारी दी गई। इधर रल क्रासिंग पर घटना होने के चलते गुमटी भी जाम हो गई, जिसके कारण एनएच 30 ए भी लगभग डेढ़ घंटे तक जाम हो गया। एनएच जाम होने से वाहनों की लंबी कतार लग गया। लगभग डेढ़ घंटे बाद स्थिति सामान्य हुई और गाड़ियों की आवाजाही शरू हो सकी। स्पीड कम होने सेटला हादसा अगर गाडी स्पीड में होती, तो क्या होता। ये भगवान ही जानें। यह बात सूरत-भागलपुर एक्सप्रस ट्रन के गार्ड जेके सिन्हा ने कहते हुए भगवान को शुक्रिया अदा किया। गार्ड ने बताया कि यह ट्रन बाढ़ स्टेशन पर नहीं रुकती है, लेकिन प्लेटफार्म होने से गाड़ी की रफ्तार कम थी, जिससे बड़े हादसे की आशंका समाप्त हो गई। कमोबेश यही स्थिति यात्रियों की थी।ड्ढr ड्ढr कपलिंग एसी कोच का टूटा और उसमें सफर कर रहे यात्री घटना को सुनाते-सुनाते कांप उठे कि चलो मौत के आगोश से बच गए। कपलिंग टूटने एवं गाड़ी खड़ा होने की सूचना पर टूटे कपलिंग की जगह सिक्कड़ बांधकर गाड़ी खींचे का प्रयास रल प्रशासन ने किया, जिसमें वे विफल रहे। डाउन लाइन पर अथमलगोला स्टेशन पर खड़ी पाटलिपुत्रा एक्सप्रस ट्रन का इंजन सूरत-भागलपुर एक्सप्रस ट्रन के रैक को पीछे से धकेलकर बाढ़ स्टेशन पर पहुंचाया। तब जाकर यात्रियों ने राहत की सांस ली। वहीं रल प्रशासन ट्रन को गंतव्य स्थान तक भेजने की जुगाड़ में लग गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सूरत एक्सप्रेस काकफलिन टूटा,टला हादसा