अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वोट ऑन एकाउंट की वैकल्पिक तैयारी

ाुलाई माह में सरकार वोट ऑन एकाउंट पेश कर सकती है। बीते दिन वित्त सचिव अशोक चावला की ओर से इसके संकेत दिये जाने के बाद आज भी योजना आयोग और वित्त मंत्रालय के सूत्रों ने यह बात दोहराई। सूत्रों के मुताबिक जुलाई के दूसर अथवा तीसर सप्ताह में आम बजट पेश करने के बार में विचार किया जा रहा है लेकिन समस्या यह है कि जुलाई माह में बजट पारित न होने की हालत में सरकार को सरकारी खर्च के लिए वोर्ट ऑन एकाउंट लाना पड़ सकता है। ध्यान रहे कि अंतरिम बजट में जुलाई माह तक के ही खर्च का प्रावधान है। आशंका इस बात की है कि जुलाई के दूसर या तीसर सप्ताह में बजट पेश हुआ तो उस पर दोनों सदनों में बहस प्रक्रिया और पारित करने की कार्रवाई जुलाई माह के अंदर पूरी करना मुश्किल हो सकता है। लिहाजा, वैकल्पिक रूप से वोट ऑन एकाउंट का इंतजाम करना पड़ सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वोट ऑन एकाउंट की वैकल्पिक तैयारी