अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लाहौर में हमला,31 मरे

भारत की सीमा से महज 12 किलोमीटर दूर स्थित पाकिस्तान के एक पुलिस प्रशिक्षण अकादमी पर भारी शस्त्रों के साथ आए आतंकियों के हमला कर देने से 11 अधिकारियों सहित कम स कम 26 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई और 0 अन्य घायल हो गए। करीब 7 घंटे की मशक्कत के बाद पाक सुरक्षाकर्मियों ने अकादमी के भवन पर कब्जा करने, वहां धुसे आतंकियों को मार गिराने व चार को जिन्दा पकड़ने के बाद ऑपरशन खत्म होने का दावा किया। दो आतंकियों ने खुद को बम से उड़ा लिया।ड्ढr ड्ढr आतंकियों ने अकादमी में प्रवेश करने के बाद प्रशिक्षु पुलिसकर्मियों को बंधक बना लिया था। पाक अधिकारियों के मुताबिक उस समय वहां करीब 850 प्रशिक्षु मौजूद थे। रिपोटरें के अनुसार पुलिस वर्दी में संदिग्ध आतंकवादियों की संख्या 15 से 20 के बीच थीं। इनमें से एक संदिग्ध को अकादमी के बाहर से गिरफ्तार किया गया। हमले पर भारत ने गहरी चिंता व्यक्त की है लकिन इस घटना की मुंबई हमले से समानता होने से इंकार किया है। गृह मंत्री पी़ चिदंबरम ने कहा, हम काफी चिंतित हैं। हम इस प्रकार के आतंकी हमलों की निंदा करते हैं।ड्ढr ड्ढr पुलिस की वर्दी में आए आतंकवादियों ने ग्रेनेड फेंकते और अंधाधुंध गोलीबारी करते हुए अकादमी पर सुबह करीब सात बजे हमला कर दिया। तब प्रशिक्षु पुलिसकर्मी सुबह के अभ्यास के लिए तैयार हो रहे थे। संदिग्ध आतंकवादियों ने अकादमी के प्रवेश द्वार पर तैनात सुरक्षाकर्मियों की हत्या कर दी। प्रशासन ने अकादमी के आसपास के क्षेत्र में कफ्यरू लगा दिया और तुरंत सेना बुला ली गई।ड्ढr ड्ढr पाकिस्तान के गृह मंत्रालय के प्रभारी रहमान मलिक न कहा कि सरकार को संदेह है कि हमल के पीछे लश्कर-ए-तैयबा,लश्कर-ए-ाांधवी और जैश-ए-मोहम्मद का हाथ है। वैसे अब तक किसी भी समूह ने हमल की जिम्मेदारी नहीं ली है। मलिक ने कहा कि यह हमला मुंबई में हुए आतंकवादी हमल के समान है। उनके अनुसार भारत से लगी वाघा सीमा के निकट मनावा पुलिस प्रशिक्षण अकादमी में हुई इस घटना और लाहौर में तीन मार्च को श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर हुए हमले में एक सी शैली का इस्तेमाल हुआ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लाहौर में हमला,31 मरे