अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस सुरक्षा होती तो बच सकती थी डायना की जान

ब्रिटेन की राजकु मारी डायना यदि पुलिस सुरक्षा फिर से बहाल करवाने के लिए राजी हो जातीं तो उनकी मृत्यु नहीं हुई होती। ब्रिटेन के पूर्व पुलिस आयुक्त पॉल कांडोन ने डायना की मौत की जांच के लिए गठित समिति को बताया कि उन्होंने राजकु मारी की सुरक्षा फिर से बहाल करने की उम्मीद से कई बार प्रयास किए, लेकिन डायना ने इस बारे में अपना निर्णय नहीं बदला। उन्हांेने कहा, ‘यदि सब कुछ मेरी इच्छा के अनुसार होता तो मुझे इस बात का पूरा भरोसा है कि पेरिस में यह हादसा नहीं हुआ होता जिसमें राजकुमारी डायना, उनके मित्र डोदी अल फयाद और उनके चालक हेनरी पौल की मौत हो गई।’ कांडोन ने कहा कि अक्टूबर 1में पुलिस के साथ एक मुलाकात में डायना ने पूछा था कि क्या उनकी कार में कोई ऐसा यंत्र लगाया गया है जिससे उनकी स्थिति के बारे में जानकारी मिल सके। हालांकि पुलिस ने उन्हें इस बात का भरोसा दिलाया कि उनकी कार में ऐसा कोई यंत्र नहीं लगाया गया था। उन्होंने कहा, ‘मेरा यह मानना है कि दुर्भाग्य से डायना ने अपने दिमाग में यह बात बैठा ली थी कि पुलिस किसी के इशारे पर उनके खिलाफ काम कर रही है।’ उल्लेखनीय है कि डायना अगस्त 1में पेरिस के पास हुई एक सड़क दुर्घटना में मारी गई थीं। इस दुर्घटना में उनके मित्र डोदी अल फयाद और उनका चालक भी मारा गया था। डोदी के पिता मोहम्मद अल फयाद का आरोप है कि महारानी एलिजाबेथ के पति एवं डायना के ससुर राजकुमार फिलिप के इशारे पर ब्रिटिश सुरक्षा सेवा ने उनकी हत्या करवाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सुरक्षा होती तो बच सकती थी डायना की जान