अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नेट्स पर बल्लेबाजी काम आयी : आरपी

तीसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया पर भारत की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले तेज गेंदबाज रुद्र प्रताप सिंह ने कहा कि नेट्स पर बल्लेबाजी के अभ्यास से दूसरी पारी में उपयोगी रन जोड़ने में उन्हें काफी मदद मिली। भ्रमणकारी टीम के गेंदबाजी के अगुआ आर. पी. सिंह ने 163 रन देकर छह विकेट लिए और उपयोगी 30 रनों का भी योगदान दिया जिसकी मदद से भारत ने मेजबान टपर्थ (प्रे.ट्र.)। पर्थ (प्रे.ट्र.)।ीम को 413 रन का मुश्किल लक्ष्य देने में सफल रहा। आर.पी. सिंह ने कहा, ‘हां, मैं नेट्स पर बल्लेबाजी अभ्यास करता हूं और परिणाम भी यही दिखाता है। यह महत्वपूर्ण था कि उस समय भारत एक महत्वपूर्ण साझेदारी करे और मैं खुश हूं कि मैं बल्ले से योगदान देने में सफल रहा।’ उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा, ‘ अब मैं अपने राज्य टीम के कप्तान से कह सकता हूं कि मुझे बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजें।’ आरपी ने कहा कि वह अपना ध्यान दूसरी आेर लगाने के बजाय गेंदबाजी पर ही केंद्रित करना चाहेंगे। उत्तर प्रदेश के स्पीडस्टर ने कहा, ‘मैं बल्लेबाजी के बजाय गेंदबाजी का लुत्फ ज्यादा उठाता हूं। मैंने ऑस्ट्रेलिया का शीर्ष क्रम निपटाने में अहम भूमिका निभायी जो बहुत संतोष देने वाला है।’ राय बरेली एक्सप्रेस ने स्वीकार किया कि भारतीय उस समय चिंतित हो गये थे जब माइकल जानसन और स्टुअर्ट क्लार्क ने नौवें विकेट पर जोरदार साझेदारी की। उन्होंने कहा, ‘हां, हम चिंतित हो गये थे। लेकिन भाग्य उनके साथ था। उनके मिसटाइम शॉट भी सही दिशा में जा रहे थे।’ यह पूछे जाने पर कि क्यों भारतीय गेंदबाज ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाजों के मुकाबले ज्यादा स्विंग करा रहे थे आरपी ने कहा, ‘हम इस कला के साथ पैदा हुए हैं। भारतीय पिचों पर अगर आप स्विंग नहीं करा सकते तो आप कुछ नहीं कर सकते।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: नेट्स पर बल्लेबाजी काम आयी : आरपी