अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैनेजमेंट में नहीं मिलती इंजीनियरिंग के छात्रों को प्राथमिकता : मोहंती

इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ मैनेजमेंट के वरिष्ठ प्रोफेसर डा. भाभा कृष्ण मोहंती ने कहा है कि मैनेजमेंट की परीक्षा में इंजीनियरिंग से स्नातक छात्रों को कोई प्राथमिकता नहीं दी जाती है। परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम योग्यता किसी भी विषय में स्नातक है। प्रवेश जांच परीक्षा में बेहतर करने वाले छात्रों का नामांकन होता है। प्रो मोहंती आरकेड बिजनेस कॉलेज द्वारा शनिवार को आयोजित कैरियर सेमिनार में छात्र-छात्राआें को संबोधित कर रहे थे।ड्ढr ड्ढr प्रो मोहंती ने कहा कि अंग्रेजी जानना ही नॉलेज का मापदंड नहीं है। छात्र जिस क्षेत्र में जाना चाहते हैं वहां की मूल सूचनाआें को कैरियर की योजना बनाते समय एकत्र कर लें। कम्युनिकेशन को विकसित किया जा सकता है, नॉलेज को नहीं। बिजनेस मैनेजरों की मांग विदेशों में भी है। टोरंटो में प्रत्येक वर्ष जॉब फेयर लगता है और भारतीय बिजनेस मैनेजरों को नौकरी में प्राथमिकता दी जाती है। आईआईएम और आईआईटी जैसे संस्थानों में दाखिला नहीं होने से कैरियर नहीं रुक सकता है। प्रो मोहंती ने छात्रों को व्यापार प्रबंधन में सफल कैरियर के कई गुर सिखाए। सेमिनार के दूसरे सत्र में छात्रों ने प्रो मोहंती से कई प्रश्न पूछे। आरकेड बिजनेस कॉलेज के निदेशक आशीष कुमार ने सेमिनार के महत्व पर प्रकाश डाला। सेमिनार में सैकड़ों छात्र-छात्राएं शामिल थीं।ड्ढr ड्ढr नंदीग्राम की घटना के विरोध में प्रतिरोध मार्च निकालाड्ढr पटना (हि.प्र.)। नंदीग्राम की घटना के विरोध में पटना विश्वविद्यालय अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने शनिवार को प्रतिरोध मार्च निकाला। यह मार्च पटना विश्वविद्यालय से निकलकर कारगिल चौक पहुंचा, जहां सभा हुई। सभा को संबोधित करते हुए वक्ताआें ने कहा कि पिछले जनवरी 07 में नंदीग्राम की घटना हुई और कम्युनिस्टों का वास्तविक चेहरा समाज के सामने आया। दलितों, शोषितों, किसानों व कमजोर वगरे का मसीहा कहलाने वाली कम्युनिस्टों ने जिस प्रकार की दमनात्मक कार्रवाई की वह पूरे समाज को शर्मसार करने वाली घटना हैं। वक्ताआें ने कहा कि प्रतिरोध मार्च के माध्यम से समाज के सामने इन कम्युनिस्टों का वास्तविक चेहरा दिखाने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि फिर से नंदीग्राम जैसी घटना की पुनरावृति न हो। प्रतिरोध मार्च में परिषद के महानगर मंत्री संजय कुमार, सूरज सिंह, इमरान, सुमित कुमार, निखिल कुमार, राजीव मिश्रा, राहुल, कन्हैया कुमार, भीम, संदीप, रौशन, गौतम, गणेश, संजीव, आलोक, विनय, अर्शद, सौरव कुमार, मोहित, अविनाश, मोनू, अमृतांशु व हिमांशु आदि शामिल थे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैनेजमेंट में नहीं मिलती इंजीनियरिंग के छात्रों को प्राथमिकता : मोहंती