class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोलियों की बौछार कर मोबाइल दुकान में लूट

ंकड़बाग इलाके में शनिवार को दिनदहाड़े हथियारबंद लुटेरों ने खूनी खेल खेलते हुए पटना पुलिस को चौंका दिया। पुरानी बाइपास पर तिवारी बेचर पट्रॉल पंप से सटे विजय-अमन अपार्टमेंट के पहले तल्ले पर स्थित मोबाइल की डबल डेकर (दो मंजिली) दुकान ‘मोबाइल मॉल’ से अपराधियों ने गोलियों की बौछार के बीच लाखों की संपत्ति लूट ली। इस क्रम में युवा व्यवसायी बंधु बिहारी लाल और मुरारी लाल (हनुमाननगर) गोलियां लगने से घायल हो गये। दोनों को इलाज के लिए श्रीराम नर्सिग होम में भर्ती कराया गया है। बिहारी को जहां दो गोलियां लगी हैं वहीं मुरारी को एक गोली लगी है। इस दौरान दुकान में लगे कांच व अन्य सामान भी क्षतिग्रस्त हो गये। अचानक हुई गोलीबारी से आसपास की दुकानों के शटर धड़ाधड़ बंद होनेलगे और अफरातफरी मच गई। सूचना मिलते ही कंकड़बाग थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंच कर छानबीन की। सुराग पाने के लिए ‘डाग स्क्वायड’ भी बुलाया गया लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। बताया जाता है कि अपराधियों ने साथ लाये झोले में 250 से अधिक मोबाइल, 70 हजार रुपए नकद व अन्य सामान भी लूट ले गए।ड्ढr ड्ढr इधर कंकड़बाग थानाध्यक्ष रमाकांत प्रसाद ने बताया कि व्यवसायी बंधुओं के विरोध के कारण अपराधी लूटपाट में सफल नहीं हो सके और लूटे गये मोबाइल से भरे झोले को मौके पर ही छोड़ कर भाग गये। घटना सुबह करीब साढ़े 10 बजे हुई। दुकान खुलने के थोड़ी ही देर बाद लुटेरों का गिरोह मोटरसाइकिलों पर सवार होकर वहां पहुंचा। इसके बाद लुटेरे यात्री के छद्म वेश में दुकान के अंदर प्रवेश कर गये। घटना के चश्मदीद घायल व्यवसायियों के चचेरे भाई राजेश कुमार ने बताया कि दुकान के निचले फ्लोर पर सर्विस सेंटर को छोड़ मोबाइल खरीदने के बहाने उपरी फ्लोर पर स्थित सेल काउंटर पर लुटेरे पहुंच गये। वहां अपराधियों ने मोबाइल सेट दिखाने को कहा। जैसे ही मोबाइल दिखाया जाने लगा वैसे ही अपराधियों ने पिस्तौल तानते हुए वहां मौजूद दुकान मालिक के साथ ही अन्य कर्मचारियों को अपने कब्जे में लेते हुए पीछे एक जगह खड़ा कर दिया। फिर लुटेरों ने एक बैग से करीब आधा दर्जन झोले निकाले और मोबाइलों के अलावा नकद व अन्य सामान उसमें भर लिये। इसके बाद एक अपराधी बोला ‘सब कोई साथ उतरना।’ बाहर की ओर निकलते हुए उसने कहा गाड़ी स्टार्ट करो। मानो कोई बाहर इंतजार कर रहा हो। सीढ़ी की तरफ बाहर निकलने के क्रम में मुरारी ने एक अपराधी को पकड़ लिया। यह देख दूसरे अपराधी ने उसकी कनपटी के समीप गोली मार दी। फिर चंगुल में फंसे अपराधी ने उसके पेट के समीप गोली दागी जो आर-पार हो गई। तब बिहारी बचाने को दौड़ा जिसके बाद अपराधियों ने उसे भी गोली मार दी। दुकान में मौजूद राजेश व अन्य पर भी अपराधियों ने निशान साधा लेकिन सभी बाल-बाल बच गये। इसके बाद अपराधियों का दल हथियार चमकाते हुए मोटरसाइकिलों पर सवार होकर भाग निकला। राजेश के मुताबिक दुकान की छानबीन के बाद ही लूटी गई संपत्ति की स्थिति स्पष्ट होगी। स्थानीय लोगों के अनुसार अपराधियों ने कम से कम छह-सात चक्र गोलियां दागीं। बताया जाता है कि करीब आधा दर्जन अपराधी दुकान के अंदर लूटपाट करने घुसे जबकि कुछ अन्य बाहर निगरानी कर रहे थे। वैसे पुलिस अधिकारियों के मुताबिक घटना में चार लुटेरों के शामिल होने का पता चला है। लुटेरों की तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गोलियों की बौछार कर मोबाइल दुकान में लूट