अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खतरा देख एटमी हथियार प्रयोग करने से नहीं चूकेंगे : रूस

स ने कहा है कि बाहरी खतरा मौजूद होने की स्थिति में उनका देश अपनी और अपने सहयोगी देशों की सुरक्षा के लिए परमाणु हथियारांे का इस्तेमाल करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।रूसी समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती ने रूस के सेना प्रमुख जनरल यूरी बलुइवस्की ने एक सम्मेलन में यह बात कही। जनरल बलुइवस्की ने कहा कि हमारी किसी भी देश पर हमला करने की योजना नहीं है लेकिन हमारा विश्वास है कि हमारे सभी अंतरराष्ट्रीय सहयोगी देश इस बात को समझते हैं और उन्हें यह समझना भी चाहिए कि रूस अपनी और अपने सहयोगियों की सीमाआें तथा संप्रभुता पर खतरा उत्पन्न होने की स्थिति में परमाणु हथियार सहित सैन्य शक्ित का उपयोग कर सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि रूस यह कदम इस तरह के खतरे को उत्पन्न होने से बचाने के लिए निवारक उपाय के तौर पर पहले ही उठा सकता है। गौरतलब है कि विशेषज्ञों के मुताबिक अमेरिका द्वारा पोलैंड और चेक गणराय में मिसाइल प्रतिरक्षा प्रणाली लगाने की योजना के मद्देनजर जनरल बलुइवस्की के इस बयान को उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) और रूस के बीच तनाव में बढ़ोतरी करने वाला समझा जा रहा है। जनरल बलुइवस्की ने कहा कि रूस के हितों की रक्षा के लिए सैन्य बलों का इस्तेमाल तभी किया जाएगा जब अन्य तरीके नाकाम हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि सैद्धान्तिक तौर पर यही किया जाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘खतरा देख एटमी हथियार के प्रयोगसे नहीं चूकेंगे’