अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सब्सिडी भुगतान से आेएनजीसी का घटा लाभ

पेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री पर घाटे की भरपाई के लिए तेल कंपनियों को 6080 करोड़ रुपए की सहायता देने से तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (आेएनजीसी) का शुद्ध मुनाफा साल की तीसरी तिमाही में 6.4 प्रतिशत कम रह गया। कंपनी के जारी तिमाही परिणामों कपेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री पर घाटे की भरपाई के लिए तेल कंपनियों को 6080 करोड़ रुपए की सहायता देने से तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम (आेएनजीसी) का शुद्ध मुनाफा साल की तीसरी तिमाही में 6.4 प्रतिशत कम रह गया।े मुताबिक अक्टूबर से दिसंबर की अवधि में कंपनी का शुद्ध मुनाफा पिछले साल के मुकाबले 6.4 प्रतिशत घटकर 4367 करोड़ रुपए रह गया। इस दौरान कंपनी का कुल कारोबार भी घट गया। दिसंबर की समाप्ति पर कंपनी का कुल कारोबार 15218 करोड़ रुपए रहा, जो कि पिछले साल इसी तिमाही में हुए 15631 करोड़ रुपए के कारोबार की तुलना में 2.6 प्रतिशत कम रहा। हालांकि चालू वित्त वर्ष के पहले माह में (अप्रैल से दिसंबर) कंपनी का मुनाफा पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 8.6 प्रतिशत ऊंचा रहकर 14075 करोड़ रुपए रहा है। पिछले साल यह 12रोड़ रुपए था। आेएनजीसी ने तिमाही के दौरान इंडियन ऑयल कापर्ोरेशन, भारत पेट्रोलियम कापर्ोरेशन और हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कापर्ोरेशन को पेट्रोलियम पदाथोर्ं की बिक्री पर होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए 6080 करोड़ रुपए का भुगतान किया। कंपनी को तीसरी तिमाही के लिए जहां डॉलर प्रति बैरल का भुगतान मिलना चाहिए था, वहीं इन कंपनियों को रियायती दाम पर कच्चे तेल की आपूर्ति के बाद उसे केवल 54.52 डॉलर प्रति बैरल का भाव ही मिला। इस तिमाही में कच्चे तेल का उत्पादन भी मामूली कम रहकर 66.20 लाख टन रहा, जबकि पिछले साल यह 66.30 लाख रहा था। प्राकृतिक गैस का उत्पादन हालांकि इस अवधि में 5.73 अरब घनमीटर से बढ़कर 5.78 अरब घनमीटर हो गया। कंपनी ने पिछले साल इसी तिमाही में 4668 करोड़ रुपए का मुनाफा कमाया था, लेकिन उसे दौरान तेल कंपनियों को सब्सिडी के तौर पर 2204 करोड़ रुपए का ही भुगतान किया गया था। न्यूक्िलयस साफ्टवेयर देश में आईटी क्षेत्र की कंपनी न्यूक्िलयस साफ्टवेयर का कुल मुनाफा चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 11.41 प्रतिशत बढ़कर पिछले वर्ष की इसी अवधि के 13.रोड़ रुपए के मुकाबले 15.53 करोड़ रुपए हो गया है। इस दौरान उसकी समग्र आय 31.8 प्रतिशत बढ़कर पिछले वर्ष के 56.18 करोड़ रुपए की तुलना में 73.64 करोड़ हो गई है।ड्ढr नैवेली लिग्नाइटड्ढr सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम नैवेली लिग्नाइट निगम लि. ने 31 दिसंबर को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में पिछले वर्ष की इसी अवधि के 152.66 करोड़ रूपए के लाभ की तुलना में 33.प्रतिशत की वृद्धि की साथ 204.48 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा दर्ज किया है। निगम की कुल आय 816.0रोड रुपए हो गई है, जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में यह 652.82 करोड़ रुपए थी।ड्ढr कोटक महिंद्रा बैंकड्ढr निजी क्षेत्र की बैंकिं ग कंपनी कोटक महिंद्रा बैंक लि. ने चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में 124 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 101.6 करोड़ रुपए कर शुद्ध लाभ दर्शाया है। कंपनी ने पिछले वर्ष इसी अवधि में 45.4 करोड़ रुपए का लाभ दर्ज किया था। इस दौरान कंपनी की कुल आय पिछले वर्ष की इसी अवधि के 452.53 करोड़ से प्रतिशत बढ़कर 887.1रोड़ रुपए हो गई है।ड्ढr सत्यम साफ्टवेयरड्ढr सूचना प्रोद्यौगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी सत्यम साफ्टवेयर लि. का चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में शुद्ध लाभ 4.34 अरब रुपए तक पहुंच गया, जबकि इसी अवधि मंे पिछले वर्ष 3.37 अरब रुपए का मुनाफा हुआ था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सब्सिडी भुगतान से आेएनजीसी का घटा लाभ