अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एडिलेड में भी जीत सकते हैं : भज्जी

टार ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह का मानना है कि पर्थ में ऑस्ट्रेलिया पर भारत की सनसनीखेज जीत के पीछे सिडनी टेस्ट विवाद के बाद भारतीय टीम का एकजुट होना है। सिडनी टेस्ट में एंड्रयू साइमंड्स पर नस्लीय टिप्पणी के आरोप में तीन मैच के प्रतिबंध के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हरभजन ने कहा कि मुश्किल घड़ी में भारतीय टीम ने एकजुटता दिखायी और परिणाम सबके सामने है। हरभजन ने ‘द एज’ से कहा कि विपरीत हालात में हरेक कोई यही सोचकर मैदान में उतरता है कि उसे कुछ साबित करना है और पर्थ टेस्ट में यही हुआ। भारत ने पर्थ टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 72 रन से हराने केसाथ ही लगातार 17वीं टेस्ट जीत हासिल करने केकंगारुआें केसपने को ध्वस्त कर दिया। हरभजन ने कहा, ‘निश्चित रूप से पर्थ में पैदा हुई एकजुटता का जीत हासिल करने में जबर्दस्त योगदान रहा। मुझे लगता है कि भारतीय खिलाड़ियों ने ऑस्ट्रेलिया को उसी की जमीन पर मात देकर खुद को साबित भी कर दिया है।’ सिडनी टेस्ट में भारतीय टीम को खराब अम्पायरिंग और रिकी पॉन्टिंग और उनके खिलाड़ियों के खेल भावना के विपरीत व्यवहार का सामना करना पड़ा था। ऑफ स्पिनर का मानना है कि भारतीय टीम एडीलेड में होने वाले चौथे और अंतिम टेस्ट में भी मेजबान को हराने में सक्षम है। हरभजन ने कहा., ‘हम सभी एक इकाई के रूप में खेलते हैं। भले ही हम हारें या जीतें, हम उसे एक साथ अंजाम देते हैं। हमारी टीम ऑस्ट्रेलिया को हराने की क्षमता रखती है और हम एडिलेड में होने वाले चौथे और आखिरी टेस्ट को भी जीतने की पूरी कोशिश करेंगे।’ भारत पर्थ टेस्ट को जीतने के बाद भी चार मैचों की इस सीरीज में 1-2 से पिछड़ा हुआ है। अब एडिलेड टेस्ट की जीत ही भारत को बराबरी पर ला सकती है। हरभजन सिंह ने कहा, ‘दुनिया की नंबर एक टीम को हराने का अहसास अलग है। लेकिन अब यह जरूरी है कि इस लय को बनाये रखा जाए और एडीलेड में सीरीज बराबर हो जाए। मैं एडिलेड में खेलू या नहीं खेलू लेकिन मैं जानता हूं कि जो टीम उतरेगी वह मैच जीतने में सक्षम होगी।’ आईसीसी ने हरभजन को उनकी अपील पर फैसला न होने तक खेलना जारी रखने की अनुमति दे दी। प्रतिबंध के खिलाफ अपील के बाद हरभजन को मैच में खेलने की अनुमति मिली हुई है। हालांकि उन्हें पर्थ में नहीं खिलाया गया था। फिलहाल हरभजन की नजर एडिलेड में टीम में शामिल किये जाने पर लगी है। टेस्ट सीरीज समाप्त होने के बाद हरभजन मामले की सुनवाई न्यूजीलैंड के उच्च न्यायालय के न्यायाधीश जॉन हेंसन करेंगे।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एडिलेड में भी जीत सकते हैं : भज्जी