DA Image
7 अप्रैल, 2020|8:46|IST

अगली स्टोरी

मोटापे और बांझपन में है गहरा रिश्ता

अगर आप मोटी हैं तो संतान सुख प्राप्त करने के लिए आपको मोटापा घटाना होगा, क्योंकि मोटापे और बांझपन के बीच बहुत गहरा रिश्ता है। मोटी महिलाओं के डिंबाशय में वसायुक्त डिंब रहते हैं जिन के स्वस्थ भ्रूण में विकसित होने की संभावना बहुत कम रहती है। आस्ट्रेलिया में किए गए एक अनुसंधान से यह तथ्य सामने आया है। एडीलेड विश्वविद्यालय की अनुसंधानकर्ता कैडीनस िमग के अनुसार डिंब के चारों ओर मौजूद प्रोटीन का मोटापे से संबंध है और यह जनन क्षमता को प्रभावित करता है। चुहियों पर किए गए एक प्रयोग से पता लगा कि मधुमेह रोकने वाली दवा रोसीजिलेटाजोन ने प्रोटीन को बढ़ावा दिया जिससे डिंब को एक स्वस्थ भ्रूण में बदलने में सहायता मिली। अनुसंधानकर्ताओं का कहना है कि मोटी महिलाओं को अपने शरीर की चर्बी को कम करना चाहिए, क्योंकि यह चर्बी डिंबाशय में उपस्थित डिंबों को नुकसान पहुंचाती है। विश्वविद्यालय में गर्भवती चूहियों पर किए गए परीक्षण में यह पाया गया कि चर्बीयुक्त भोजन डिंबों को एक स्वस्थ भ्रूण में विकसित होने से रोकता है और यह प्रजननक्षमता में अवरोध पैदा करता है। िमग का कहना है कि मोटी महिलाओं में जो कोशिकाएं विकसित होती हैं, वे भी विभाजित हो जाती हैं। अत: प्रजनन क्षमता को प्रभावशाली ढंग से विकसित करने के लिए जरूरी है कि महिलाएं अपना वजन घटाएं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: मोटापे और बांझपन में है गहरा रिश्ता