अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झचजर प्रोजेक्ट को 180 करोड़ का ऋण

पावर फाइनंेस कारपोरेशन (पीएफसी), हरियाणा के झजर में स्थापित की जा रही 1500 मेगावाट की इंदिरा गांधी सुपर थर्मल बिजली परियोजना के लिए 5180 करोड़ रुपये का ऋण उपलब्ध कराएगा। पीएफसी द्वारा किसी एक परियोजना को उपलब्ध कराए जाना वाला अब तक का सबसे बड़ा ऋण है। इसके लिए इस परियोजना को क्रियान्वित करने वाली अरावली पावर कंपनी के साथ गुरुवार को समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। अरावली पावर कंपनी सरकारी उपक्रम एनटीपीसी तथा दिल्ली और हरियाणा सरकारों का संयुक्त उद्यम है। इसमंे एनटीपीसी की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत तथा हरियाणा और दिल्ली की हिस्सेदारी 25.25 प्रतिशत है। 500 मेगावाट की तीन यूनिटों वाली इस परियोजना के अक्तूबर 2010 तक पूरा करने का लक्ष्य है। इसमें बनने वाली बिजली का हरियाणा और दिल्ली के बीच बराबर बंटवारा होगा। अरावली पावर कंपनी ने परियोजना के लिए जरूरी भूमि का अधिग्रहण कर लिया है तथा इसके लगाए जाने वाले वायलरों तथा अन्य उपकरणों के लिए भारत हैवी इलेक््रिटक्ल लिमिटेड को आर्डर दिया जा चुका है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: झचजर प्रोजेक्ट को 180 करोड़ का ऋण