अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूबे के गांवों में गूंज रहे मायावती के भाषण

बिहार के गांवों में उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री सुश्री मायावती के भाषण सुनाये जा रहे हैं। सुश्री मायावती जाति तोड़ कर जमात के साथ जुड़ने की अपील बिहारवासियों से कर रही हैं। उत्तर प्रदेश की तर्ज पर बिहार का विकास करने के लिए वे सर्वजन समाज की हित की बातें कर रही हैं और बिहार निर्माण के लिए 6 फरवरी को पटना में होने वाले सर्वजन भाईचारा बनाओ महासम्मेलन में शिरकत करने की अपील कर रही हैं।ड्ढr ड्ढr प्रदेश बसपा ने नीतीश शासन के दौरान अपने पहले बड़े सम्मेलन को लेकर तैयारी तेज कर दी है। जिसकी जितनी हिस्सेदारी, उसकी उतनी भागीदारी के सिद्धांत पर अमल करते हुए ‘जो सम्पति सरकारी है वो सम्पत्ति हमारी है’ के नारे के साथ पटना आने का निमंत्रण दिया जा रहा है। प्रदेश महासचिव जनक चमार ने कहा कि संकल्प रैली या चेतावनी रैली की तरह बसपा ट्रेन या बसों की बुकिंग नहीं कर रही है बल्कि बसपा के हार्डकोर कार्यकर्ताओं के जिम्मे चन्दा जुटाकर पार्टी समर्थकों को पटना लाने की जिम्मेवारी है।ड्ढr ड्ढr प्रदेश अध्यक्ष बबन सिंह कुशवाहा जहानाबाद, बेगूसराय, गया जिलों में प्रचार जागरण रथ पर सवार हो दौरा कर रहे हैं तो प्रदेश उपाध्यक्ष संजय मंडल भागलपुर, जमुई, मुंगेर जिलों में सर्वजन समाज के हितों का बखान कर रहे हैं। जनक चमार वैशाली, चम्पारण, सारण, गोपालगंज के दौरे पर हैं तो मालती सिंह कुशवाहा पुराने शाहाबाद प्रक्षेत्र में लोगों को बसपा का पाठ पढ़ा रही हैं। हृदय नारायण खरवार एवं राजेश त्यागी दरभंगा समेत कोसी एवं पूर्णिया प्रक्षेत्र में बहन मायावती के विकास के एजेंडे का बखान कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सूबे के गांवों में गूंज रहे मायावती के भाषण