DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दी के इस्तेमाल में लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई

भारत सरकार के गृह मंत्रालय राजभाषा विभाग के पूर्वी क्षेत्रीय उपनिदेशक अजय मल्लिक ने सरकारी कार्यालयों में हिन्दी के इस्तेमाल पर जोर दिया है। उन्होंने बैंकों के कार्यपालक और राजभाषा के अधिकारियांे को चेतवानी देते हुए कहा कि हिन्दी के प्रयोग में लापरवाही बरतनेवालों पर कड़ी कारवाई की जाएगी। श्री मल्लिक ने सोमवार को नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति (बैंक) की बैठक को संबोधित कर रहे थे।ड्ढr ड्ढr बैंक ऑफ इंडिया के आंचलिक प्रबंधक व समिति के अध्यक्ष रामावतार सिंह ने अध्यक्षीय भाषण में कहा कि बिहार में ग्राहकों को बेहतर सेवा देने का सबसे सरल माध्यम हिन्दी ही है। केनरा बैंक के उप आंचलिक प्रबंधक एके जैन, पंजाब नेशनल बैंक के आंचलिक प्रबंधक बी एल गुप्ता, यूनाइटेड बैंक क मुख्य प्रबंधक पीएन सिन्हा ने भी बैंकों के कामकाज पर हिन्दी के अधिक से अधिक इस्तेमाल पर जोर दिया। समिति के सचिव गिरिवर धारी सिंह ने स्वागत करते हुए छह महीने के कार्यकलाप पेश किए।ड्ढr ड्ढr इस मौके पर आयोजित आशुभाषण प्रतियोगिता में एसबीआई के सुशील कुमार सिंह को प्रथम यूनाइटेड बैंक के विनोद कुमार झा को दूसरा व नाबार्ड के मनीष शरण को तीसरा स्थान प्राप्त हुआ। स्लोगन प्रतियोगिता में यूबीआई के सुभाष चंद्र गुप्ता को पहला, बैंक आफ इंडिया के मुसाफिर प्रसाद को दूसरा, बैंक आफ इंडिया की रीता सिंह को तीसरा स्थान मिला। धन्यवाद ज्ञापन इंदिराकांत पाठक ने किया। इस अवसर पर विभिन्न बैंकों के अधिकारी एसके बहुगुणा, प्रेमचंद शर्मा, श्यामनन्दन शर्मा, ओमप्रकाश श्रीवास्तव, राजीव रंजन मिश्र,अरुण कुमार,केके वर्मा रामजी चौधरी भी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हिन्दी के इस्तेमाल में लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई