अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखीमपुर की शिक्षिका की हत्या में डॉक्टर गिरफ्तार

प्रवक्ता उमा सिंघल हत्याकांड में पुलिस ने शनिवार को शहर के एक डॉक्टर प्रदीप मेहता को धर दबोचा। मेहता इस मामले में विरोधाभासी बयान दे रहा था और कोतवाली पुलिस की मानें तो उसके पास से हत्या में प्रयुक्त चाकू भी मिला है। एस.पी. डॉ. एन. रविन्दर ने बताया कि उसके खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य हैं। बताया जा रहा है कि फोरेंसिक रिपोर्ट भी डॉ. प्रदीप मेहता की ओर ही इशारा कर रही है।ड्ढr गत 20 जनवरी को आवास विकास कॉलोनी में रहने वाली डॉ. उमा सिंघल की हत्या कर दी गई थी। उनकी हत्या से पुलिस परेशान थी क्योंकि न तो कोई चश्मदीद था और न हत्यारे ने सबूत छोड़े थे। केस के खुलासे के लिए शहर के बुद्धिजीवी और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का दबाव भी उस पर पड़ रहा था। शक की सुई डॉ. प्रदीप मेहता की ओर घूमी हुई थी। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह बार-बार बयान बदलने लगा। इससे पुलिस का शक और बढ़ा और कोतवाल बी.आर. वर्मा, उप निरीक्षक प्रताप बहादुर सिंह व पी.के. शुक्ला ने प्रदीप पर नजर रखनी शुरू की। फोरेंसिक रिपोर्ट भी इस हत्याकांड में उसका हाथ होने की बात कहती नजर आई। इस पर पुलिस ने प्रदीप को पकड़ लिया और कड़ाई से पूछताछ की। इससे वह टूट गया और हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद करवा दिया।ड्ढr ताजिये में जड़ा करोड़ों का सोना-चाँदी चोरीड्ढr मछलीशहर (जौनपुर) (सं)। कस्बे में स्थित इमामबाड़े मंे रखे एक ऐतिहासिक ताजिये में जड़ा 10 किलो सोना और 15 किलो चांदी चोरों ने बीती रात उड़ा लिया। इस चोरी की जानकारी होते ही आम नागरिक आक्रोशित हो उठे। उन्होंने मुंगरा बादशाहपुर तिराहे पर शनिवार की सुबह ही चक्काजाम कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लखीमपुर की शिक्षिका की हत्या में डॉक्टर गिरफ्तार