DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जातीय तनाव पर नियंत्रण को डीएम व एसपी जिम्मेदार

जातीय व सामाजिक तनाव पर नियंत्रण के लिए डीएम-एसपी संयुक्त रूप से जिम्मेदार होंगे। कुशेश्वरस्थान के मुसहरों की कराह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तक पहुंचने के साथ ही सरकार ने सभी जिलों में सामाजिक तनावों पर काबू पाने की सीधी जवाबदेही स्थानीय प्रशासन पर डाल दी है। नियमों का हवाला देकर 1, अणे मार्ग की चौखट से लौटाए गए मुसहरों को ‘हिन्दुस्तान में छपी खबर के आधार पर’ सोमवार को जनता दरबार में प्रवेश मिला। दबंगों द्वारा मार डाले गये नागो सदा और महेन्द्र सदा के परिजनों से मिलकर मुख्यमंत्री ने गईजोरी के सभी मुसहर परिवारों को तत्काल इंदिरा आवास, खाद्यान्न और बीपीएल योजनाओं का लाभ दिलाने का आदेश दिया।ड्ढr ड्ढr दरभंगा जिला के कुशेश्वरस्थान प्रखंड अंतर्गत गईजोरी में 14 जनवरी को फुलदेव यादव, चन्देव यादव, टुनटुन यादव, तारिणी यादव, रामा यादव और भागेश्वर यादव ने नागो सदा और महेन्द्र सदा को गोली मार दी और लाश भी अपने साथ लेते गये। मुख्यमंत्री को अपनी पीड़ा सुनाने के लिए गईजोरी के सैंकड़ों मुसहर 28 जनवरी से ही राजधानी में कड़ाके की ठंड झेलते हुए भी डेरा डाले हुए थे। सोमवार को नागो सदा के पुत्र मनोज सदा और महेन्द्र सदा की पत्नी सुरजी देवी अपने दुधमुंहे बच्चे के साथ मुख्यमंत्री से मिले।ड्ढr मुख्यमंत्री ने फौरन दरभंगा के डीएम और एसपी को गईजोरी जाकर स्थिति का जायजा लेने और मुसहर परिवारों को सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिये। श्री कुमार ने कहा कि सामाजिक तनावों को रोकने के लिए डीएम-एसपी संयुक्त रूप से जिम्मेदार होंगे। उन्होंने कहा कि सभी परिवारों को इंदिरा आवास, खाद्यान्न और बीपीएल योजनाओं का लाभ मिलेगा। वृद्धावस्था पेंशन पाने के योग्य व्यक्ितयों को पेंशन भी मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जातीय तनाव पर नियंत्रण को डीएम व एसपी जिम्मेदार