DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंभीर का शतक और यह मैच भी धुला

गौतम गंभीर के विस्फोटक नॉट आउट शतक से भारत ने श्रीलंका के खिलाफ जीत की उम्मीदें जगायी थीं। लेकिन मंगलवार को त्रिकोणीय सीरीज का दूसरा एकदिवसीय मुकाबला भी बारिश की भेंट चढ़ने से उस पर पानी फिर गया। गंभीर ने जोरदार प्रहारों की मदद से नॉट आउट 102 रन बनाए और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (नॉट आउट 88) के साथ 50 आेवर में चार विकेट पर 267 रन का प्रभावशाली स्कोर खड़ा किया। श्रीलंका को इसका जवाब देने का मौका ही नहीं मिला। वर्षा ने एक रोमांचक मैच की संभावना को शुरू होने से पहले ही खत्म कर दिया। गाबा पर रविवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया सीरीज का उद्घाटन मैच भी वर्षा के कारण रद्द हो गया था। भारत की पारी समाप्त होने के तुरंत बाद बारिश शुरू हो गयी। अम्पायर दक्षिण अफ्रीका के रुडी कुएर्टन और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव डेविस ने मैच रद्द करने का फैसला करने से पहले थोड़ा इंतजार किया। दोनों टीमों को दो-दो अंक दे दिए गए। भारत दो मैचों में चार अंक लेकर तालिका में शीर्ष पर है। श्रीलंका और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के एक-एक मैच के बाद दो-दो अंक हैं। गंभीर और धोनी के बीच पांचवें विकेट के लिए हुई 184 रन की तेजतर्रार साझेदारी के बूते भारत ने चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। गंभीर ने गेंदों पर दस चौकों और एक छक्के की मदद से नॉटआउट 102 रन बनाए। धोनी गेंदों पर 88 रन बनाकर नॉटआउट रहे। गंभीर और धोनी ने एक समय 21वें आेवर तक 83 रन पर चार विकेट गंवाकर संघर्ष कर रही टीम को संभालने के बाद रन गति तेज की और अंतिम दस आेवरों में 105 रन ठोंक दिए। इस दौरान गंभीर ने अपना तीसरा वनडे शतक पूरा किया जबकि धोनी ने 18वां अर्धशतक बनाया। इससे पहले भारत ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग ने पहले विकेट के लिए 14 आेवरों में 68 रन जोड़कर भारतीय पारी को तेज शुरुआत दी थी। लेकिन सचिन 35 रन बनाने के बाद लसिथ मलिंगा की गेंद को विकेट पर खेल गए। इसके साथ ही भारतीय पारी अपनी दिशा खो बैठी। हालांकि अपनी पारी के दौरान सचिन ने अपने 16 हजार एकदिवसीय रन भी पूरे कर लिए। थोड़ी देर बाद सहवाग भी 33 के निजी स्कोर पर इशरा अमरसिंघे की गेंद पर विकेट के पीछे कैच हो गए। घुटने की चोट से उबरने के बाद वापसी करने वाले युवराज सिंह भी महज दो रन बनाकर मुथैया मुरलीधरन की गेंद पर स्लिप में कैच हो गए। उसी आेवर में रोहित शर्मा (00) भी मुरलीधरन के जाल में फंसकर पैवेलियन लौट गए। इसी के साथ भारत बड़ी मुश्किल में फंसता हुआ दिखाई देने लगा। लेकिन गंभीर ने 11 के निजी स्कोर पर विकेटकीपर कुमार संगकारा से जीवनदान मिलने के बाद धोनी के साथ मिलकर सूझबूझ से खेलते हुए ऐसी नौबत नहीं आने दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गंभीर का शतक और यह मैच भी धुला