DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

क्षेत्र की समस्याआें को मुखर तरीके से रखें

‘बताइए, कैसा चल रहा है? कैसी काम कर रही है सरकार? विकास कार्यो पर नजर रखे हैं न!’ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी पदाधिकारियों से हाल-चाल पूछने के साथ-साथ राज्य सरकार के कार्यो पर उनकी टिप्पणी भी जानी। उन्होंने पदाधिकारियों से यह भी स्पष्ट रूप से कहा कि उन्हें जहां भी लगे, वे निश्चित रूप से सुझाव दें। इससे सरकार को बेहतर कार्य करने और आम लोगों के लिए कल्याणकारी कार्यो में सहायता मिलेगी।ड्ढr ड्ढr मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जदयू के राज्य पदाधिकारियों के साथ-साथ विभिन्न प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों से भी मुलाकात की। हालांकि कई अन्य कार्यकर्ता भी बड़ी संख्या में उनसे मिलने पहुंचे। इनमें से कई कार्यकर्ताओं ने अपने-अपने क्षेत्रों की समस्याएं मुख्यमंत्री के पास रखीं, जिसका तत्काल समाधान मुख्यमंत्री ने किया। उन्होंने पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से क्षेत्र की समस्याओं को और मुखर तरीके से रखने की नसीहत दी और कहा कि इससे विकास कार्यो को अपेक्षित गति मिलेगी। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री पिछले माह के अंत तक पार्टी के जिलाध्यक्षों व विभिन्न प्रकोष्ठों के जिलाध्यक्षों के साथ ही प्रखंडस्तर के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से मिल चुके हैं। उनसे मुख्यमंत्री ने सरकार के चार बेहतर कार्यो की जानकारी ली। साथ ही उनसे उन कार्यो की भी जानकारी मांगी जो सरकार नहीं कर पाई या फिर सरकार को करना चाहिए। इतना ही नहीं उन्होंने उनसे सरकार के अच्छे कायरे के साथ-साथ नाकामयाबियां भी पूछीं।ड्ढr मुख्यमंत्री ने उनसे नि:स्वार्थ भाव से काम करने की अपील की और कहा कि शेष चीजें वो सरकार पर छोड़ दें। उनके मान-सम्मान में कहीं कोई कमी नहीं होगी। कार्यकर्ताओं ने पार्टी के लिए जितना भी किया है, पार्टी या सरकार उसे नहीं भूलेगी। सक्रियता, समय और समर्पण के हिसाब से हर कार्यकर्ता को उचित सम्मान दिया जाएगा।ड्ढr हालांकि उन्होंने पुरानी संस्कृति से बचने की नसीहत भी दी और कहा कि तत्काल लाभ के चक्कर में नहीं पड़ना चाहिए और जनता की नि:स्वार्थ भाव से सेवा करनी चाहिए।ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: क्षेत्र की समस्याआें को मुखर तरीके से रखें